नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी ने साध्वी प्रज्ञा के गोडसे को देशभक्त बताए जाने वाले बयान पर प्रतिक्रिया दी है. पीएम मोदी ने एक समाचार चैनल से बातचीत करते हुए कहा कि साध्वी प्रज्ञा माफी ने माफ़ी मांग ली है, लेकिन मैं उन्हें मन से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा. यहीं नहीं पीएम मोदी ने यहां तक कहा कि सभ्य समाज में ऐसी सोच और ऐसी भाषा नहीं चलती है. उन्होंने कहा कि प्रज्ञा ठाकुर को मैं कभी दिल से माफ नहीं कर करूंगा. पीएम ने कहा कि गांधी जी या गोडसे के बारे में जो बयान दिए गए हैं, वो बहुत खराब और समाज के लिए बहुत गलत है. ये अलग बात है की उन्होंने (प्रज्ञा ठाकुर) माफी मांग ली, लेकिन मैं उन्हें मन से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा.

साध्वी प्रज्ञा के बयान के बाद सख्त हुई बीजेपी, पार्टी अनुशासन समिति को मामला भेज मांगी रिपोर्ट

बता दें कि साध्वी प्रज्ञा भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी की प्रत्याशी हैं. मालेगांव बम विस्फोट मामले की वह आरोपी हैं और वह इस समय जमानत पर हैं. एक दिन पहले उन्होंने कहा था कि नाथूराम गोडसे देश भक्त थे, हैं और रहेंगे. महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या करने वाले गोडसे को देशभक्त बताए जाने के बाद सियासी तूफ़ान आ गया. बवाल के बीच बीजेपी ने भी साध्वी के इस बयान को नकार दिया और नोटिस जारी किया. इसके बाद साध्वी ने मामला बिगड़ते देख इस बयान को लेकर माफी भी मांग ली.

प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने गोडसे को बताया देशभक्त, कांग्रेस हमलावर, बैकफुट पर बीजेपी, कहा- माफी मांगे साध्वी

पीएम मोदी ने कहा कि चुनाव नतीजे के बाद देश को किस दिशा में ले जाना है और कितनी तेजी से ले जाना है, मेरे मन में बस यही चलता रहता है, इसके अतिरिक्त मैं कुछ नहीं सोचता. उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस का इतना पतन हो जाएगा, ये हमने कभी नहीं सोचा था, उसके पास आज उम्मीदवार नहीं हैं. आज उनके ऐसे लोगों को चुनाव लड़ना पड़ रहा है, जो सार्वजनिक जीवन से रिटायर हो चुके थे. उन्हें जबरदस्ती चुनाव लड़ाया जा रहा है.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com