मुरादाबाद: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी(बसपा) पर रविवार को निशाना साधा, और कहा कि अब वह गाली प्रूफ हो गए हैं. मोदी ने यहां एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, “मोदी की बात शौचालय से शुरू होती है और शौचालय पर खत्म होती है. इनका तो बस एक सूत्री कार्यक्रम है, मोदी को गाली जितनी दे सकते हो दो. मुझे गाली सुनने का दो दशक का अनुभव है. अब मैं गाली प्रूफ हो गया हूं.”

मोदी ने कहा, “मैं गठबंधन को महामिलावट क्यों कहता हूं. इसके भी कारण हैं. बबुआ ने बुआ के सम्मान में कहा था कि प्रदेश में लगी मूर्तियों के पैर की अंगुली को तोड़ कर देखेंगे तो उसमें भी पैसा निकलेगा. ऐसा कहने वाला बबुआ आज बुआ के साथ है. अब वे एक-दूसरे का सम्मान कर रहे हैं. साथियों संकट आज अस्तित्व का है. कह रहे हैं मेरा कहा भी माफ तुम्हारा कहा भी माफ, नहीं तो हम दोनों हो जाएंगे साफ.”

‘वीरू’ ने ‘बसंती’ के लिए मांगे वोट, बोले- ‘अगर नहीं जिताया, तो गांव की टंकी पर चढ़ जाऊंगा’

उन्होंने कहा, “मायावती अब उम्मीदवारों के लिए वोट मांग रही हैं. एक ऐसे उम्मीदवार हैं, जिनको बाबा साहेब की मूर्ति को माला पहनाना पसंद नहीं, अब उनके लिए वोट मांग रही हैं. दूसरा यूनिवर्सिटी के नाम पर जमीन कब्जा कर रहे हैं, उसके लिए वोट मांग रही हैं. आज साइकिल पर हाथी सवार है और निशाने पर चौकीदार है. मैंने प्रयागराज में कुंभ के मेले में सफाईकर्मियों के पैर धोए तो बहन जी को पीड़ा हुई.” प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “शौचालय का क्या महत्व है, यह कांग्रेसी और अन्य नहीं समझ पाएंगे. क्योंकि इनके पास टाइल्स वाले विदेशी शौचालय हैं. उन बहू-बेटियों से पूछो जो बाहर जाती थीं, अब नहीं. यह चौकीदार उन महिलाओं और बेटियों का चौकीदार बना है, यह मेरे लिए सम्मान की बात है.”

मोदी ने कहा, “उप्र में पहले की सरकारों ने बेटियों का जीना मुश्किल कर रखा था. तीन तलाक जैसी परंपरा को सहने के लिए मजबूर थीं. हमारी सरकार ने उन्हें राहत दी. 23 मई को हमारी सरकार बनी तो तीन तलाक का कानून फिर से संसद में लाया जाएगा.” मोदी ने कहा कि एक नए भारत को बनाने का संकल्प लिया है, जो सुंदर भी होगा और समृद्ध भी होगा. मुरादाबाद लोकसभा सीट के लिए मतदान तीसरे चरण के तहत 23 अप्रैल को होंगे. मतगणना 23 मई को होगी.