नई दिल्ली: महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे पर कमल हासन के विवादित बयान के हंगामे के बीच भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने ताजा बयान देकर मामला गरमा दिया है. उन्होंने कहा कि नाथूराम गोडसे देश भक्त थे, हैं और रहेंगे. उनको ऐसा बोलने वाले लोग स्वयं की गिरेबान में झांक कर देखें. ऐसा बोलने वालों को इस चुनाव में जवाब दे दिया जाएगा. उनके इस बयान से किनारा करते हुए भारतीय जनता पार्टी ने इसकी निंदा की है, साथ ही कहा है कि पार्टी उनसे (प्रज्ञा सिंह ठाकुर) से स्पष्टीकरण मांगेगी. साथ ही कहा कि उन्हें इस गयान के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए.

 

बता दें कि महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे के संदर्भ में मक्कल नीधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हासन ने कहा था कि नाथूराम गोडसे आजाद भारत का पहला चरमपंथी एक हिंदू था. रविवार की रात एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए हासन ने कहा कि वह एक ऐसे स्वाभिमानी भारतीय हैं जो समानता वाला भारत चाहते हैं. ऐसा इसलिए नहीं बोल रहा हूं कि यह मुसलमान बहुल इलाका है, बल्कि मैं यह बात गांधी की प्रतिमा के सामने बोल रहा हूं. आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिन्दू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है. वहीं से इसकी (आतंकवाद) शुरुआत हुई.

माफी मांगे प्रज्ञा ठाकुर
भाजपा नेता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि बीजेपी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयान पर “नाथूराम गोडसे था, है और एक ‘देशभक्त” रहेगा इस बयान से सहमत नहीं है, हम इसकी निंदा करते हैं. पार्टी उनसे स्पष्टीकरण मांगेगी, उन्हें इस बयान के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए.

कांग्रेस ने बोला हमला
कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने प्रज्ञा ठाकुर के बयान को लेकर भाजपा पर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि इससे सत्तारूढ़ दल का हिंसक चेहरा सामने आ गया है. कहा कि प्रज्ञा का बयान पूरे देश का अपमान है और इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने दावा किया कि भाजपा का हिंसक चेहरा बेनकाब हो गया. आज फिर बापू की विचारधारा पर भाजपाई प्रहार हुआ. प्रज्ञा ठाकुर ने गोडसे को देशभक्त बताकर पूरे देश का अपमान किया है. यह एक ऐसा अक्षम्य अपराध है जिसे देश कभी माफ नहीं कर सकता.

विवादित बयान के बाद अब कमल हासन बोले- ‘जो ऐतिहासिक सच था, बस वही कहा’

प्रज्ञा ठाकुर ने हेमंत करकरे पर भी दिया था विवादित बयान
बता दें कि मध्य प्रदेश के भोपाल संसदीय क्षेत्र से भाजपा की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने बीते दिनों मुंबई एटीएस के प्रमुख रहे 26/11 के शहीद हेमंत करकरे पर प्रताड़ना का आरोप लगाया था. कहा था कि उन्होंने करकरे को ‘श्राप दिया था, इसलिए वह आतंकवादियों का शिकार बने. उनके इस बयान की देश ही नहीं, प्रदेश में भी तीव्र प्रतिक्रिया हुई थी.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com