पासीघाट. पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार को विपक्ष पर निशाना साधते हुए कांग्रेस के चुनावी घोषणापत्र को ‘पाखंड से भरा झूठ का पुलिंदा’ बताया. अरुणाचल प्रदेश में एक सप्ताह के भीतर दूसरी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2004 के लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के चुनावी घोषणापत्र का उदाहरण देते हुए कहा कि उसमें वादा किया गया था कि 2009 तक सभी घरों में बिजली होगी. मोदी ने कहा, लेकिन 2014 तक 18,000 गांवों तक बिजली नहीं पहुंची थी। उनकी (कांग्रेस) ही तरह उनका चुनावी घोषणापत्र भी भ्रष्ट और झूठ का पुलिंदा है. इसलिए इसे चुनावी घोषणापत्र नहीं, बल्कि पाखंड से भरा दस्तावेज कहा जाना चाहिए.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी का चुनावी घोषणापत्र जारी किया. इसमें रोजगार सृजन, कृषि संकट के समाधान, जीएसटी के लिए समान दर लाने और गरीब परिवारों को प्रति वर्ष 72,000 रुपये देने का वादा किया गया है. प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि वह वोट के नाम पर किसानों को बेवकूफ बनाती है जबकि भाजपा सरकार हमेशा उनके साथ रही है.

हमने किसानों को धोखा नहीं दिया
मोदी ने कहा, हमने कभी किसानों को धोखा देने का पाप नहीं किया है. लेकिन हमने बीज से लेकर बाजार तक के लिए तंत्र विकसित किया है. उन्होंने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव ‘‘विश्वास और भ्रष्टाचार तथा संकल्प और षड्यंत्र के बीच चयन का है.’’ राज्य में लोकसभा और विधानसभा के लिए मतदान एक ही दिन 11 अप्रैल को होना है.