नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव के चौथे चरण के चुनाव के बाद राजनीतिक पार्टियों के बीच की जंग और तेज हो गई है. इसी क्रम में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को उत्तर प्रदेश की चुनानी रणनीति का खुलासा किया. इसमें प्रियंका ने साफ तौर पर स्वीकारा कि यूपी की कई सीटों पर कांग्रेस के उम्मीदवारों की चुनावी हार तय है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस ने यूपी की कई लोकसभा सीटों पर ऐसे उम्मीदवार उतारे हैं, जो भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशियों का वोट काटेंगे. लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण के मतदान से पहले प्रियंका गांधी वाड्रा का यह बयान, यूपी में महागठबंधन और भाजपा के बीच अगले तीन चरणों के चुनाव को सीधे तौर पर प्रभावित करेगा.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com

प्रियंका गांधी वाड्रा ने मीडिया के साथ बातचीत करते हुए अपनी पार्टी की चुनावी रणनीति का खुलासा किया. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा को इस बार के चुनाव में करारी हार देखने को मिलेगी. प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा, ‘यूपी में इस बार भाजपा को लोकसभा चुनाव में जबर्दस्त झटका लगने वाला है. पार्टी की कई सीटों पर हार होनी तय है. प्रदेश की कई लोकसभा सीटों पर कांग्रेस पार्टी ने मजबूत उम्मीदवार खड़े किए हैं. हमारी पार्टी के प्रत्याशी चुनाव मैदान में भाजपा को कड़ी टक्कर दे रहे हैं. मुझे पूरा विश्वास है कि कांग्रेस इस लड़ाई में जीतेगी.’

कांग्रेस की रणनीति का खुलासा करते हुए प्रियंका गांधी वाड्रा ने यह भी बताया कि उनकी पार्टी ने यूपी की कई लोकसभा सीटों पर कमजोर उम्मीदवार उतारे हैं, जो भाजपा की जीत की राह में रोड़ा बनेंगे. प्रियंका ने कहा, ‘यूपी में जहां हमारे उम्मीदवार हल्के हैं, वहां हमने ऐसे उम्मीदवार दिए हैं जो भाजपा का वोट काटे.’ पांचवें चरण के चुनाव से पहले कांग्रेस की पूर्वी उत्तर प्रदेश की नवनियुक्त महासचिव का यह बयान सियासी हलके में महत्वपूर्ण माना जा रहा है. क्योंकि प्रियंका द्वारा कई सीटों पर कांग्रेस उम्मीदवारों की हार होने की भविष्यवाणी करने को कई लोग सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के जीतने और भाजपा को नुकसान पहुंचाने से जोड़कर देख रहे हैं. खासकर पूर्वी यूपी में जहां सपा-बसपा गठबंधन के उम्मीदवार मैदान में हैं, वहां की चुनावी जंग के अब और रोचक होने की संभावना है.