नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव बुरी हार के बाद कांग्रेस पार्टी में इस्तीफों की झड़ी लगी है. कई प्रदेश अध्यक्षों ने इस्तीफा दे दिया है. सूत्रों से भी खबर आ रही है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी इस्तीफे की पेशकश कर सकते हैं लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या कांग्रेस वर्किंग कमेटी उनका इस्तीफा स्वीकार करेगी. Also Read - West Bengal Assembly Election: कांग्रेस का ममता बनर्जी को बड़ा ऑफर, कहा- पश्चिम बंगाल में मिलकर चुनाव लड़े TMC, बीजेपी से...

लोकसभा चुनाव में करारी हार के कारणों पर मंथन करने के लिए कांग्रेस की सर्वोच्च नीति निर्धारण इकाई कांग्रेस वर्किंग कमेटी (सीडब्ल्यूसी) की आज बैठक होगी. सूत्रों के अनुसार बैठक के दौरान पार्टी अध्यक्ष हार की जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफे की पेशकश कर सकते हैं. सूत्रों का कहना है कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी सीडब्ल्यूसी की बैठक में अपने इस्तीफे की पेशकश कर सकते हैं. यह जानकारी उस वक्त आई है कि जब पार्टी के कई स्थानीय नेताओं ने इस्तीफा दे दिया है. Also Read - TMC सांसद नुसरत जहां ने भाजपा को बताया दंगा कराने वाला, मुसलमानों को कहा- उल्टी गिनती शुरू..

उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रमुख राज बब्बर ने पार्टी के निराशाजनक प्रदर्शन को देखते हुए पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को अपना इस्तीफा भेज दिया है. ओडिशा में लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव में हार के मद्देनजर प्रदेश कांग्रेस समिति अध्यक्ष निरंजन पटनायक ने भी शुक्रवार को अपने पद से इस्तीफे की घोषणा की. सीडब्ल्यूसी की बैठक के संदर्भ में कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘सीडब्ल्यूसी की बैठक में मुख्य रूप से हार के कारणों पर विचार किया जाएगा. इस बारे में भी चर्चा होगी कि पार्टी को किस तरह से मजबूत किया जा सकता है.’’ Also Read - कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, राहुल-प्रियंका भी हुए शामिल, कहा- पूंजीपतियों को फायदा पहुंचा रही बीजेपी

इस बैठक में राहुल गांधी के अलावा संप्रग प्रमुख सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और कार्यसमिति के अन्य सदस्य शामिल हो सकते हैं. गौरतलब है कि कांग्रेस को लोकसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा है. वह 52 सीटों पर सिमट गई है. 2014 के चुनाव में 44 सीटें जीतने वाली पार्टी को इस बार बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी, लेकिन उम्मीद पूरी नहीं हो सकी.