शिमलाः हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ भाजपा नेता जयराम ठाकुर ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के चुनाव प्रचार पर तुरंत रोक लगाने की मांग की है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री को ‘चोर’ कह कर चुनाव आचार संहिता का खुलेआम उल्लंघन कर रहे हैं. वे सुप्रीम कोर्ट की अवमानना करके प्रधानमंत्री पर कीचड़ उछाल रहे हैं. यह लोकतंत्र के लिए बहुत खतरनाक है. इस के खिलाफ बुधवार को प्रदेश के सभी जिला उपायुक्तों के माध्यम से मुख्य चुनाव आयुक्त को ज्ञापन भेजे गए हैं. भाजपा राहुल गांधी के बयानों की कड़ी निंदा करती है. Also Read - PM Modi Announced Startup Fund: देश में स्टार्ट-अप को मिलेगा बढ़ावा, PM मोदी ने की 1,000 करोड़ रुपये के फंड की घोषणा

जयराम ठाकुर ने कहा कि खुद हजारों करोड़ के घोटालों के आरोपी राहुल गांधी जमानत पर छूट कर लोकतंत्र की सभी मयार्दाओं को तार-तार कर रहे हैं. देश के निर्वाचित प्रधानमंत्री को ‘चोर’ कहना भारत की 130 करोड़ जनता का अपमान है. Also Read - COVID-19 Vaccination Drive: वैक्सीन का इंतजार हुआ खत्म, दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के लिए देश तैयार

उन्होंने कहा कि अपने अपशब्दों की विश्वसनीयता बनाने के लिए राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट के नाम का दुरूपयोग करने का दुस्साहस भी किया है. जबकि भाजपा की अवमानना याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने साफ कर दिया है कि अदालत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ न तो कोई टिप्पणी की है और न ही उन्हें ‘चोर’ कहा है. सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी को अदालत की अवमानना का नोटिस भी जारी किया है. Also Read - West Bengal Assembly Election: कांग्रेस का ममता बनर्जी को बड़ा ऑफर, कहा- पश्चिम बंगाल में मिलकर चुनाव लड़े TMC, बीजेपी से...

उन्हांने कहा कि राहुल गांधी, उनकी मां एवं पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, जीजा राबर्ट वाड्रा समेत कांग्रेस के बड़े-बड़े राष्ट्रीय नेता गंभीर घोटालों में जमानत पर छूटे हुए हैं. ऐसे दागदार नेताओं को बेदाग प्रधानमंत्री को ‘चोर’ कहने से पहले अपने गिरेबान में झांक लेना चाहिए.

उन्होंने कहा कि 1947 से घोटालों के आरोपों में शामिल रही कांग्रेस पार्टी को यह बर्दाश्त नहीं हो रहा है कि पांच साल तक बिना कोई घोटाला किए प्रधानमंत्री कैसे तेज गति से विकास कार्य कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस के शर्मनाक आरोपों को लेकर चुनाव आयोग और सुप्रीम कोर्ट में गई है. पार्टी देश की 130 करोड़ जनता का अपमान बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेगी.

(इनपुट-भाषा)