नई दिल्ली: नेताओं में परिवार के सदस्यों से कर्ज लेने के मामले सामान्य दिखते हैं जहां कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी मां से, सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने अपने बेटे से और पूर्व भाजपा नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने अपनी बेटी से ऋण लिया है.

राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव के अपने हलफनामे में मां सोनिया गांधी से पांच लाख रुपये का ‘व्यक्तिगत ऋण’ लेने का खुलासा किया है. हालांकि, उनके नाम पर अन्य कोई कर्ज नहीं है. संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अपने नाम पर किसी कर्ज का खुलासा नहीं किया है.

‘आप’ के लिए जिग्नेश ने मांगे वोट, बोले- उन्हें चुनें जो बच्चों को ऑक्सफोर्ड भेजें, अयोध्या नहीं

उत्तर प्रदेश के मैनपुरी से लोकसभा चुनाव लड़ रहे मुलायम सिंह यादव ने अपने बेटे और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से 2.13 करोड़ रुपये का कर्ज लेने का खुलासा किया है. उन्होंने अपने परिवार के अन्य सदस्यों को दिये गये ऋण का भी ब्योरा दिया है जिसमें दूसरी पत्नी साधना यादव को 6.75 लाख रुपये, बेटे प्रतीक को 43.7 लाख रुपये और एक अन्य परिजन मृदुला यादव को 9.8 लाख रुपये देने की बात कही गयी है.

भाजपा से हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुए अभिनेता-नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने पटना साहिब लोकसभा सीट से अपने नामांकन में अभिनेत्री बेटी सोनाक्षी सिन्हा से करीब 10.6 करोड़ रुपये कर्ज लेने की जानकारी दी है. वहीं, सिन्हा ने अपने बेटे लव सिन्हा को 10 लाख रुपये और पत्नी पूनम सिन्हा को करीब 80 लाख रुपये का कर्ज देने की भी बात कही है.

कपिल सिब्बल ने कहा- कांग्रेस को अपनी दम पर नहीं मिलेगा बहुमत, बीजेपी इतनी सीटों पर सिमटेगी

लखनऊ से सपा उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहीं पूनम सिन्हा भी अपनी बेटी सोनाक्षी की 16 करोड़ रुपये से अधिक की कर्जदार हैं. चंडीगढ़ से भाजपा की उम्मीदवार किरण खेर ने अपने बेटे सिकंदर खेर से 25 लाख रुपये का कर्ज लिया है.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com