बाराबंकीः उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव दिलचस्प मोड़ पर पहुंच गया है. चुनाव की घोषणा से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ एकजुट होने की कोशिश में लगे सपा, बसपा और कांग्रेस अब एक दूसरे पर ही हमलावर हो गए हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को यहां सपा मुखिया अखिलेश यादव, बसपा अध्यक्ष मायावती पर निशाना साधा, और कहा कि दोनों का रिमोट कंट्रोल नरेंद्र मोदी के पास है.

राहुल ने यहां एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, “अखिलेश और माया की हिस्ट्री मोदी के पास है. वह उन दोनों पर दबाव डाल सकते हैं. इसलिए ये दोनों मोदी के रिमोट कंट्रोल से संचालित होते हैं. ये दोनों पार्टियां मोदी के खिलाफ कभी सामने नहीं आएंगी. मेरी कोई हिस्ट्री नहीं, इसलिए मैं मोदी से नहीं डरता, बल्कि वह मुझसे डरते हैं.” उन्होंने कहा, “मोदी कांग्रेस मुक्त भारत का नारा देते थे, लेकिन हमने तीन साल में ही उनका गुब्बारा फोड़ दिया. अब मोदी में दम नहीं है. कांग्रेस ने ही मोदी सरकार की सच्चाई सबके सामने उजागर की है.”

राहुल ने कहा, “मोदी जहां भी जाते हैं झूठ बोलते हैं. युवाओं से झूठ बोलते हैं, किसानों से झूठ बोलते हैं. मैं झूठा वादा नहीं करता. जब हमारी सरकार आएगी हम देश के हर गरीब परिवार के खाते में हर साल 72 हजार रुपये डालेंगे. हम किसानों को कर्ज वापस न दे पाने पर जेल भी नहीं भेजेंगे.”

उन्होंने कहा, “जब नीरव मोदी 35 हजार करोड़ रुपये लेकर भाग गया, उसे जेल नहीं भेजा गया तो किसानों को क्यों जेल भेजा जाए. न्याय योजना के तहत गरीब परिवारों को पैसे देने से देश की अर्थव्यवस्था पर कोई बुरा असर नहीं पड़ेगा.”

(इनपुट-भाषा)