नई दिल्ली: एक्जिट पोल के ज्यादातर नतीजों की तरह सट्टा बाजार में भी 2019 लोकसभा चुनाव में भाजपा की जीत बताई जा रही है, लेकिन वे एक्जिट पोल की तुलना में कुछ कम सीटें दे रहे हैं. सात चरणों में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में कई शहरों के सट्टा बाजार भाजपा को 238 से 245 सीटें दे रहे हैं. जबकि कांग्रेस को 5-82 सीटें मिल सकती हैं.

राजस्थान में सट्टेबाज भाजपा को 242-245 सीटें दे रहे हैं, जबकि दिल्ली के सट्टा बाजार में यह संख्या 238-241 है. करीब-करीब यही आंकड़ा मुंबई का भी है. साल 2014 के चुनाव में भाजपा ने 282 सीटें जीती थी, जबकि अन्य सहयोगी दलों के साथ राजग की कुल 336 सीटें थीं.

नायडू ने ममता के साथ 45 मिनट की मीटिंग, गैर बीजेपी सरकार की संभावनाएं तलाशी

ज्यादातर एक्जिट पोल में भाजपा को अकेले बहुमत के करीब दिखाया गया है, वहीं, सट्टा बाजार में यह आंकड़ा कुछ कम है. लेकिन राजग को वे पूर्ण बहुमत दे रहे हैं. आईएएनएस-सीवोटर के एक्जिट पोल में भाजपा को 236 सीटें मिलने का अनुमान है. यह सट्टा बाजार के आकलन के करीब है. सट्टा बाजार का मानना है कि कांग्रेस 75-82 सीटें जीत सकती है. कई एक्जिट पोल के नतीजे बताते हैं कि एनडीए को 312, यूपीए को 110 और अन्य को 98 सीटें मिल सकती हैं.