नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के सातवें और आखिरी चरण की वोटिंग चल रही है. आठ राज्यों की 59 सीटों पर मतदान हो रहा है. आज सुबह सात बजे से शुरू वोटिंग के बीच तीन बजे तक 51.95 फ़ीसदी मतदान हुआ है. राज्यों की बात करें तो सात बजे से शुरू हुए मतदान के बाद 3 बजे तक के आंकड़ों के अनुसार उत्तर प्रदेश में 46.07 फीसदी, बिहार में 46.66 फीसदी, मध्य प्रदेश में 57.27 फीसदी, पंजाब में 48.18 फीसदी, पश्चिम बंगाल में 63.58 फीसदी, झारखंड में 64.81 फीसदी, चंडीगढ़ में 50.24 फीसदी व हिमाचल प्रदेश में 49.43 फीसदी मतदान हुआ है. लगभग सभी जगहों पर बम्पर वोटिंग हो रही है. पश्चिम बंगाल और झारखंड वोटिंग प्रतिशत में सबसे आगे हैं. Also Read - WB Assembly Elections: बंगाल में पहले ही कराए जा सकते हैं विधानसभा चुनाव, बोर्ड परीक्षा की है तैयारी

जैसे-जैसे दिन ढलेगा वैसे ही वोटिंग पर्सेंटेज भी बढ़ेगा. पश्चिम बंगाल में तेजी से वोटिंग हो रही है. बिहार के पटना में आपस में जुड़ी सबा और फराह ने पहली बार वोट डाला. दोनों का शरीर एक-दूसरे से जुड़ा हुआ है. दोनों बहनों के अलग-अलग वोट बनाए गए थे. दोनों आज एक साथ पोलिंग बूथ पर पहुंची और वोट कास्ट किया. इसी तरह दूल्हा दुल्हन भी वोट डालने पहुंचे. हिमाचल प्रदेश में 1951 में पहले आम चुनाव के वोटर रहे 100 साल से अधिक की उम्र के श्याम शरण नेगी ने भी वोट डाला. एक दिन पहले उन्होंने कहा था कि अगर ज़िंदा रहे एक दिन और तो वोट ज़रूर डालेंगे.

बता दें कि आज कई बड़े दिग्गज चुनाव मैदान में हैं. वाराणसी सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर उम्मीदवार हैं. वाराणसी में भी वोटिंग हो रही है. इस सातवें चरण में पंजाब में 13, उत्तर प्रदेश में 13, पश्चिम बंगाल में नौ, बिहार और मध्य प्रदेश में आठ-आठ, हिमाचल प्रदेश में चार, झारखंड में तीन और चंडीगढ़ की एकमात्र लोकसभा सीट पर मतदान हो रहा है.

आखिरी चरण में 10.01 करोड़ से अधिक मतदाता हैं, जो 918 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे. निर्वाचन आयोग ने मतदान सुगम तरीके से संपन्न कराने के लिए 1.12 लाख मतदान केंद्र बनाए हैं. लोकसभा चुनाव के पिछले छह चरणों में औसतन 66.88 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया.