कोल्हापुर. राकांपा प्रमुख शरद पवार ने अपनी मां द्वारा दिए गए संस्कारों का हवाला देते हुए मंगलवार को कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निजी तौर पर हमला नहीं करेंगे, भले ही मोदी ने ऐसा किया हो. महाराष्ट्र के वर्धा में भाजपा-शिवसेना गठबंधन के चुनाव प्रचार की शुरुआत करते हुए मोदी ने सोमवार को पवार पर तीखे हमले किए और दावा किया कि राकांपा प्रमुख ने प्रतिकूल स्थिति देखते हुए लोकसभा चुनावों से अपना नाम वापस ले लिया है.

साथ ही उन्होंने कहा कि पवार की पार्टी पर से पकड़ ढीली हो रही है और उनके भतीजे के चलते उपजे पारिवारिक कलह से पार्टी कमजोर पड़ गई है. पवार ने इसके जवाब में मंगलवार को कहा, “मोदी जहां भी जा रहे हैं वहां निजी हमले कर रहे हैं. लेकिन मैं ऐसा नहीं करुंगा क्योंकि मैं अपनी मां द्वारा दिए गए संस्कारों से प्रभावित हूं. निजी आलोचना हमारी संस्कृति में उचित नहीं बैठती. साथ ही उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को राकांपा में पारिवारिक कलह के बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं है.

अजीत पवार पर ये कहा
शरद पवार स्वाभिमान पक्ष के सांसद राजू शेट्टी के लिए आयोजित एक सभा में बोल रहे थे. शेट्टी हातकणंगले से और धनंजय महादिक कोल्हापुर से विपक्षी गठबंधन के उम्मीदवार हैं. पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, उन्होंने (मोदी) अजित पवार के साथ मतभेद पर बात की जो सही नहीं है. अजित पवार पार्टी के प्रति वफादार हैं. नेहरू गांधी परिवार की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि परिवार ने देश सेवा के लिए अपनी जिदंगी कुर्बान की है.

इंदिरा ने काम किया
शरद पवार ने कहा, इंदिरा गांधी ने गरीबी हटाने के लिए काम किया. राजीव गांधी ने देश में आधुनिकीकरण और प्रौद्योगिकी लाने के लिए काम किया. कई लोगों ने सोचा कि राजीव गांधी की हत्या के बाद सोनिया गांधी देश छोड़कर चली जाएंगी लेकिन वह देश के प्रति अपनी प्रतिबद्धता के कारण यहीं रूकी रहीं.

5वीं पीढ़ी कर रही राष्ट्र की सेवा
पवार ने दावा किया, अब परिवार की पांचवीं पीढ़ी राष्ट्र की सेवा कर रही है. गांधी परिवार ने अपने सिद्धांतों से कभी समझौता नहीं किया. देश के प्रधानमंत्री सिर्फ एक परिवार पर हमला कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि मोदी अपनी सरकार की विफलताओं से ध्यान भटकाने के लिए प्रतिद्वंद्वियों पर हमले कर रहे हैं.