नई दिल्ली/पटना. बीजेपी से टिकट कटने से नाराज शत्रुघ्न सिन्हा गुरुवार को कांग्रेस में शामिल हो जाएंगे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बिहार कांग्रेस कैंपेन कमेटी के चेयरमैन और राज्यसभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह ने कहा है कि शत्रुघ्न सिन्हा दिल्ली में कांग्रेस ज्वाइन करेंगे. इस कार्यक्रम में शीर्ष नेता होंगे लेकिन यह नहीं बता सकते कि कौन कौन खासतौर पर उस समय मौजूद रहेंगे. Also Read - बिहार: कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय से 8 लाख रुपए बरामद, इनकम टैक्स अफसरों ने रणदीप सिंह सुरजेवाला से की पूछताछ

शत्रुघ्न सिन्हा का पटना साहिब सीट से दूसरा लोकसभा कार्यकाल है और इस बार भाजपा ने इस संसदीय क्षेत्र से उनके बजाए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को अपना उम्मीदवार घोषित किया है. कभी भाजपा के स्टार प्रचारकों में से शुमार रहे शत्रुघ्न अपनी पार्टी के भीतर महत्व नहीं दिए जाने से नाराज चल रहे थे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के नेतृत्व की लगातार आलोचना करते रहे. उनके इस व्यवहार से यही कयास लगाए जा रहे थे कि वह दूसरे दलों में शामिल हो सकते हैं. Also Read - वादा तेरा वादा.....बिहार चुनाव में लगी वादों की झड़ी, किस पार्टी ने जनता से क्या की है प्रॉमिस, जानिए

कांग्रेस युक्त भारत को लेकर किया था ट्वीट
ऐसे में टिकट कटने से शत्रुघ्न सिन्हा और नाराज हो गए. उन्होंने रविवार को ट्विट करके कांग्रेस में जाने के संकेत दिए थे. इस दौरान उन्होंने लिखा था कि ‘समय आ गया है कांग्रेस युक्त भारत का.’ इसके बाद से ये कहा जा रहा है कि शत्रुघ्न कांग्रेस ज्वाइन करने वाले हैं. Also Read - Bihar Assembly Election 2020: तेजस्वी की चाल में उलझा जदयू, 77 सीटों पर सीधा मुकाबला

आडवाणी का टिकट कटने पर जताई थी नाराजगी
इसके पहले शत्रुघन सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर पार्टी के वरिष्ठ नेता एलके अडवाणी के साथ ‘दर्दनाक’ और ‘शर्मनाक’ तरीके से पेश आने का आरोप लगाया है. सिन्हा पटना साहिब से भाजपा के मौजूदा सांसद है लेकिन पार्टी ने उन्हें आगामी लोकसभा चुनाव में टिकट नहीं दिया है. सिन्हा ने शनिवार को सिलसिलेवार ट्वीट में दावा किया कि गांधीनगर के मौजूदा सांसद अडवाणी को टिकट ना देकर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को टिकट देने का भाजपा का फैसला ‘कई लोगों को रास नहीं आया.’