नागपुर. शिवसेना को बुधवार को उस वक्त झटका लगा जब महाराष्ट्र के चंद्रपुर जिले के वरोरा के विधायक सुरेश उर्फ बालू धनोरकर ने पार्टी और विधानसभा सीट से इस्तीफा दे दिया. इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि वह कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं या विपक्षी दलों के समर्थन के साथ निर्दलीय लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं. आपको बता दें कि महाराष्ट्र में शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी के बीच हाल ही में गठबंधन की सीटों के बंटवारे को अंतिम रूप दिया गया है. ऐसे में शिवसेना के विधायक का पार्टी छोड़कर मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस में शामिल होना, बड़ी सियासी घटना माना जा रहा है.

इधर, कांग्रेस को भी चंद्रपुर में एक मजबूत प्रत्याशी की जरूरत है. धनोलकर चुनाव लड़ते हैं तो उनका सामना भाजपा के चार बार के सांसद व केंद्रीय मंत्री हंसराज अहीर से होगा. धनोरकर ने मीडिया से कहा, “मैं चंद्रपुर सीट से चुनाव लड़ूंगा. कांग्रेस से कुछ समय से बात चल रही है लेकिन अभी कोई नतीजा नहीं निकला है.”

बीते महीने शिवसेना का भाजपा से गठबंधन तय होने के बाद धनोरकर ने इस पर आपत्ति जताई थी और पार्टी छोड़ने का मन बना लिया था. उन्होंने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया और विधानसभा अध्यक्ष को भी अपना इस्तीफा भेज दिया. कांग्रेस सूत्रों ने कहा कि स्थानीय जातीय गणित धनोरकर के पक्ष में बताए जा रहे हैं.