लखनऊ. लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण के मतदान में विभिन्न दलों के प्रत्याशी ईवीएम में गड़बड़ी के आरोप तो लगा ही रहे हैं. भाजपा नेता स्मृति ईरानी ने विपक्षी प्रत्याशी पर बूथ कैप्चर करने का आरोप लगाया है. केंद्रीय मंत्री और अमेठी से भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने सोमवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बूथ कैप्चरिंग करा रहे हैं. स्मृति ने सोमवार को एक ट्वीट कर कहा ‘एलर्ट ईसीआईएसवीईईपी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बूथ कैप्चरिंग करा रहे हैं.’ उन्होंने एक ट्वीट को टैग किया जिसमें एक वीडियो में एक बुजुर्ग महिला जबरदस्ती कांग्रेस के पक्ष में मतदान कराने का आरोप लगा रही है. इससे पहले बीते दिनों स्मृति ईरानी ने अमेठी के एक अस्पताल में व्यक्ति की मौत को लेकर भी राहुल गांधी पर आरोप लगाए थे. इस अस्पताल के ट्रस्टी में राहुल गांधी का नाम भी शामिल है. ईरानी ने आरोप लगाया था कि आयुष्मान कार्डधारी होने के कारण उस व्यक्ति का इलाज नहीं किया गया, जिससे उसकी मौत हो गई.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com

वीडियो में कथित महिला कह रही है, ‘‘हाथ पकड़ कर जबरदस्ती पंजा पर धर दिहिन, हम देहे जात रहिन कमल पर.’’ इस मामले में अभी तक कोई लिखित शिकायत चुनाव अधिकारियों को नहीं मिली है. केंद्रीय मंत्री ने अपने आधिकारिक टि्वटर हैंडल पर घटना का वीडियो शेयर करते हुए निर्वाचन आयोग से इस मामले पर संज्ञान लेने की मांग की है. बाद में मीडिया के साथ बातचीत में स्मृति ईरानी ने कहा कि उन्होंने अमेठी की घटना की शिकायत निर्वाचन आयोग से की है. अब इस देश के लोगों को यह तय करना है कि क्या वह राहुल गांधी की नीतियों को चुनते हैं या फिर उन्हें इस बात के लिए सजा देते हैं.

अमेठी से भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी इससे पहले भी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर कई आरोप लगा चुकी हैं. अमेठी में चुनाव प्रचार के दौरान क्षेत्र का विकास न करने या गांधी परिवार द्वारा यहां की उपेक्षा करने को लेकर पहले भी स्मृति ईरानी के बयान आते रहे हैं. बीते दिनों ईरानी ने राहुल गांधी पर आरोप लगाते हुए कहा था कि अमेठी के एक अस्पताल में एक व्यक्ति का इलाज इसलिए नहीं किया गया, क्योंकि उसके पास मोदी सरकार द्वारा जारी किया गया आयुष्मान कार्ड था. ईरानी ने इस मामले को लेकर राहुल पर हमला बोलते हुए कहा था कि गांधी परिवार की इसी मानसिकता के कारण देश के लोगों की यह हालत है. ईरानी ने अमेठी के अस्पताल में आयुष्मान कार्डधारक व्यक्ति की मौत पर मीडिया के साथ बातचीत करते हुए कहा था, ‘ये परिवार इतना घिनौना है कि एक निर्दोष को मौत के घाट उतारने को तैयार है, सिर्फ इसलिए क्योंकि उन्हें अपनी राजनीति प्यारी है.’

(इनपुट – एजेंसी)