पटनाः विपक्षी दलों के महागठबंधन में शामिल राष्ट्रीय जनता दल (राजद) में सीट बंटवारे से नाराज बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव की नाराजगी कम होने का नाम नहीं ले रही है. उन्होंने मंगलवार को एक बार फिर जहानाबाद और शिवहर से टिकट की मांग की. तेज प्रताप ने अपने अंदाज में यहां मंगलवार को शंखनाद कर चुनावी प्रचार का आगाज करते हुए कहा कि तेजस्वी उनके ‘अर्जुन हैं. तेजस्वी गलत लोगों से घिरे हुए हैं. इन्हीं लोगों ने टिकट बांटने का भी काम किया है. Also Read - बिहार विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद अब इस तैयारी में विपक्षी महागठबंधन...

टिकट की मांग को लेकर परिजनों से हुई बातचीत’ के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि तेजस्वी अपने आस-पास के गलत लोगों से घिरे हुए हैं, जिनके विषय में सभी जानते हैं. मेरी बात न तो माता जी (राबड़ी देवी) से हुई है और न ही अपने छोटे भाई से. अब मेरा ‘सुदर्शन चक्र’ चलेगा और दुश्मन धराशायी होंगे. Also Read - तेजस्वी ने नीतीश पर की व्यक्तिगत टिप्पणी, सीएम बोले- राजनीति में आगे बढ़ना है तो ठीक से व्यवहार करना सीख लो

उन्होंने शिवहर और जहानाबाद से प्रत्याशी बदलने की मांग करते हुए कहा कि काम करने वालों और पार्टी के लिए मेहनत करने वालों को टिकट दिया जाना चाहिए. तेजस्वी को ‘दिल का टुकड़ा’ बताते हुए तेज प्रताप ने कहा कि शिवहर के लोग नाराज हैं. Also Read - बिहार: बीजेपी ने सुशील कुमार मोदी को बनाया राज्यसभा उम्मीदवार, राम विलास पासवान के निधन से खाली हुई थी सीट

उल्लेखनीय है कि राजद ने जहानाबाद सीट से सुरेंद्र यादव को, जबकि शिवहर सीट से सैयद फैसल अली को उम्मीदवार बनाया है. इन दोनों सीटों के उम्मीदवारों को लेकर तेज प्रताप नाराज हैं. वह जहानाबाद से चंद्र प्रकाश और शिवहर से अंगेश कुमार के लिए टिकट की मांग कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि अभी भी समय है कि पार्टी इसमें सुधार करे. तेज प्रताप ने ‘लालू-राबड़ी मोर्चा’ बनाने की घोषणा की है. बिहार में सभी सात चरणों में मतदान होना है. पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को, जबकि 19 मई को सातवें और अंतिम चरण के लिए वोट डाले जाएंगे. मतों की गिनती 23 मई को होगी.

(इनपुट-आईएएनएस)