चंडीगढ़: सैनिकों को दिए जाने वाले भोजन की गुणवत्ता की शिकायत करते हुए ऑनलाइन वीडियो पोस्ट करने के मामले में 2017 में बर्खास्त किए गए जवान ने चुनाव मैदान में उतरने की तैयारी कर ली है. जवान वाराणसी से पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने की तैयारी में है. हरियाणा के रेवाड़ी में तेज बहादुर यादव ने पत्रकारों से कहा, ‘‘मैं वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ निर्दलीय चुनाव लडूंगा.’’ Also Read - PM नरेंद्र मोदी का नया रिकॉर्ड, सबसे लंबे समय तक रहने वाले पहले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री बने

यादव ने कहा कि वह भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए चुनाव लड़ना चाहते है. उन्होंने कहा, ‘‘ मैंने भ्रष्टाचार का मामला उठाया लेकिन मुझे बर्खास्त कर दिया गया. मेरा पहला उद्देश्य (सुरक्षा) बलों को मजबूत करना और भ्रष्टाचार खत्म करना होगा.’’ Also Read - पीएम नरेंद्र मोदी ने की पारदर्शी कराधान मंच की शुरुआत, बोले- करदाताओं का होगा मान-सम्मान

महबूबा मुफ़्ती बोलीं- 370 हटने पर भारत और जम्मू-कश्मीर का रिश्ता हो जाएगा खत्म Also Read - Independence Day 2020: स्वतंत्रता दिवस पर जानें राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे से जुड़ीं ये कुछ जरूरी बातें

गौरतलब है कि यादव ने 2017 में सोशल मीडिया पर एक वीडियो अपलोड किया था, जिसमें वह जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पहाड़ी इलाके के बर्फीले स्थान पर सैनिकों को मिलने वाले भोजन की गुणवत्ता की शिकायत करता नजर आ रहा था. इसके बाद उसे अनुशासनहीनता के आरोप में बर्खास्त कर दिया गया था.