भोपाल: भाजपा के पूर्व विधायक आरटी प्रजापति ने भाजपा प्रदेश कार्यालय में वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात की और टीकमगढ़ संसदीय सीट से उम्मीदवार वीरेंद्र खटीक को बदलने की मांग की. प्रजापति ने कहा कि अगर उम्मीदवार नहीं बदला गया तो भाजपा की हार तय है. ये मांग करने वाले आरटी प्रजापति छतरपुर जिले की चंदला विधानसभा सीट से भाजपा के विधायक रहे हैं. वर्तमान में उनके पुत्र राजेश प्रजापति विधायक हैं.

प्रजापति ने भाजपा के प्रदेश संगठन मंत्री सुहास भगत से मुलाकात के बाद संवाददाताओं से कहा, “पार्टी ने सबका साथ, सबका विकास का नारा दिया था, मगर टीकमगढ़ में तो सिर्फ वीरेंद्र का विकास हुआ है. कोई कुछ भी कर ले वीरेंद्र की हार तय है.” भाजपा सूत्रों ने कहा कि प्रजापति ने भगत से मुलाकात के दौरान उम्मीदवार बदलने की मांग की. लेकिन उन्होंने प्रजपाति की मांग नहीं मानी.

कुछ ऐसा रहा कांग्रेसी हुईं ‘रंगीला’ गर्ल का फिल्मी करियर, 10 साल छोटे कश्मीर के मॉडल से की थी शादी

ज्ञात हो कि उम्मीदवारी तय होने से पहले भी टीकमगढ़ संसदीय क्षेत्र के अधीन आने वाले विधानसभा क्षेत्रों के कुछ वर्तमान और पूर्व विधायकों ने एक बैठक कर वीरेंद्र खटीक का विरोध किया था. टिकट मिलने के बाद अब प्रजापति खुलकर सामने आ गए हैं. टीकगमढ़ संसदीय क्षेत्र में छह मई को मतदान होना है.