नई दिल्ली. रविवार को लोकसभा चुनाव के छठे दौर का मतदान हो रहा है. इस चरण में एक दर्जन से ज्यादा वीआईपी लोकसभा सीटें हैं, जिन पर विभिन्न राजनीतिक दलों के दिग्गज चुनाव मैदान में अपना भाग्य आजमा रहे हैं. इन दिग्गजों में कांग्रेस की तरफ से जहां दिग्विजय सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, शीला दीक्षित, भूपिंदर सिंह हुड्डा के नाम शामिल हैं. वहीं, भारतीय जनता पार्टी के मनोज तिवारी, राधामोहन सिंह, मेनका गांधी, रीता बहुगुणा जोशी, नरेंद्र सिंह तोमर जैसे उम्मीदवारों का भविष्य भी रविवार को ईवीएम में कैद हो जाएगा. छठे दौर के लोकसभा चुनाव में भाग्य आजमा रहे इन दिग्गजों की सीटों पर आइए डालते हैं एक नजर.

दिल्ली
उत्तर-पूर्वी दिल्ली – इस लोकसभा सीट के चुनाव पर सियासी जानकार नजर गड़ाए हुए हैं. यहां से कांग्रेस की दिग्गज नेता और दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित चुनाव मैदान में उतरी हैं. उन्हें भाजपा के मौजूदा सांसद मनोज तिवारी चुनाव मैदान में कड़ी टक्कर देने को खड़े हुए हैं. टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के अनुसार, यहां से आम आदमी पार्टी ने दिलीप पांडेय को अपना उम्मीदवार बनाया है.
दक्षिण दिल्ली – पिछले लोकसभा चुनाव में यहां से भाजपा के रमेश विधूड़ी ने चुनाव जीता था. पार्टी ने इस बार भी उन्हें इसी संसदीय सीट से मैदान में उतारा है. कांग्रेस ने विधूड़ी के खिलाफ एक नया नाम, बॉक्सर विजेंद्र सिंह को चुनाव मैदान में उतारा है. इस सीट पर मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने के लिए आम आदमी पार्टी के युवा नेता राघव चड्ढा भी खम ठोंक रहे हैं.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com

उत्तर प्रदेश
इलाहाबाद – पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा के खाते में गई इस सीट पर पार्टी ने इस बार उम्मीदवार बदल दिया है. यहां से यूपी सरकार में मंत्री और पूर्व कांग्रेस नेता रीता बहुगुणा जोशी भगवा पार्टी की तरफ से मैदान में हैं. उनके खिलाफ सपा-बसपा गठबंधन ने राजेंद्र सिंह पटेल को मैदान में उतारा है. इस सीट पर कांग्रेस की तरफ से योगेश शुक्ला भी चुनाव में अपना भाग्य आजमा रहे हैं.
सुल्तानपुर – अमेठी और रायबरेली से सटी सुल्तानपुर लोकसभा सीट पर पिछले चुनाव में वरुण गांधी ने अपना परचम लहराया था. लेकिन इस बार उनकी मां मेनका गांधी यहां से चुनाव लड़ रही हैं. उन्हें टक्कर देने के लिए कांग्रेस ने इस सीट पर पुराने दिग्गज संजय सिंह को चुनाव मैदान में खड़ा किया है. इस सीट पर मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने के लिए बसपा की तरफ से चंद्रभद्र सिंह सोनू भी मैदान में हैं.

मध्यप्रदेश
भोपाल – लगभग 3 दशकों से भाजपा के कब्जे में रही भोपाल संसदीय सीट का चुनाव इस बार काफी रोचक हो गया है. कांग्रेस ने यहां से पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह को टिकट दिया है. वहीं, भाजपा ने दिग्विजय को मात देने के लिए मालेगांव बम धमाकों की आरोपी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को चुनाव मैदान में उतारा है. राष्ट्रवाद और हिंदुत्व के मसले को लेकर भोपाल में हो रही चुनावी जंग पर सियासी जानकारों की नजरें टिकी हुई हैं.
मुरैना – चंबल इलाके की यह सीट भी अर्से से भाजपा के कब्जे में रही है. पिछली बार भाजपा की तरफ से यहां से अनूप मिश्रा चुनाव जीते थे. लेकिन इस बार पार्टी ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को अपना टिकट दिया है. उन्हें टक्कर देने के लिए कांग्रेस ने रामनिवास रावत को चुनाव मैदान में उतारा है. यहां से बहुजन समाज पार्टी ने भी करतार सिंह भड़ाना को मैदान में उतारकर चुनाव को त्रिकोणीय बनाने की कोशिश की है.

विराट कोहली ने गुड़गांव में किया मतदान, भोपाल में प्रज्ञा ठाकुर पहुंचीं वोट डालने

विराट कोहली ने गुड़गांव में किया मतदान, भोपाल में प्रज्ञा ठाकुर पहुंचीं वोट डालने

बिहार
पूर्वी चंपारण – लोकसभा चुनाव के छठे चरण में बिहार की पूर्वी चंपारण (मोतिहारी) लोकसभा सीट पर भी वोट डाले जा रहे हैं. यहां से केंद्रीय मंत्री और मौजूदा सांसद राधामोहन सिंह भाजपा की तरफ से चुनाव मैदान में हैं. वहीं, उनके खिलाफ महागठबंधन की तरफ से कांग्रेस प्रत्याशी आकाश सिंह मुकाबले को उतरे हैं. जाति समीकरणों की वजह से इस सीट के चुनाव पर भी सियासी विशेषज्ञ नजरें टिकाए हुए हैं.
सीवान – राजद के बाहुबली नेता शहाबुद्दीन की वजह से चर्चा में रही इस सीट पर इस बार दो बाहुबली की पत्नियों के बीच चुनावी जंग छिड़ी हुई है. जदयू ने जहां बाहुबली अजय सिंह की पत्नी कविता सिंह को मैदान में उतारा है, वहीं राजद ने जेल में बंद शहाबुद्दीन की पत्नी हिना सहाब को चुनाव का टिकट दिया है.

हरियाणा
सोनीपत – यहां से प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं. उनके खिलाफ भाजपा ने मौजूदा सांसद रमेश कौशिक को मैदान में उतारा है. वहीं, इस संसदीय सीट पर जननायक जनता पार्टी (JJP) की तरफ से खड़े दिग्विजय चौटाला भी चुनाव को रोचक बना रहे हैं.
हिसार – हरियाणा की इस दूसरी वीआईपी सीट पर कांग्रेस की तरफ से जहां वैभव विश्नोई चुनाव मैदान में हैं, वहीं उन्हें टक्कर देने के लिए भाजपा ने बृजेंद्र सिंह को टिकट दिया है. इन दोनों के अलावा इस सीट पर तीसरा जो सबसे अहम नाम है, वह है दुष्यंत चौटाला का, जो यहां के सांसद भी हैं. पिछले लोकसभा चुनाव में दुष्यंत चौटाला ने यह सीट आईएनएलडी के टिकट पर जीती थी, लेकिन इस बार वे कुछ महीने पहले बनाई अपनी नई पार्टी, जननायक जनता पार्टी की तरफ से चुनाव लड़ रहे हैं.

पश्चिम बंगाल
पुरुलिया – लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में हुए सभी चरणों के मतदान चर्चा में रहे हैं. तृणमूल कांग्रेस के गढ़ में भाजपा के बढ़ते प्रभाव के बीच हो रहे चुनाव के परिणाम पर देशभर की नजरें लगी हुई हैं. छठे चरण के मतदान के तहत बंगाल में पुरुलिया लोकसभा सीट पर तृणमूल ने जहां मृगांको महतो को अपना उम्मीदवार बनाया है, वहीं भाजपा की तरफ से यहां ज्योतिर्मय महतो चुनाव लड़ रहे हैं. इस सीट पर कांग्रेस ने नेपाल महतो और फॉरवर्ड ब्लॉक ने बीर सिंह महतो को टिकट दिया है.
घटाल – इस सीट पर तृणमूल कांग्रेस ने जहां बंगाली सिनेमा के चर्चित एक्टर देव को चुनाव मैदान में उतारा है. वहीं भाजपा की तरफ से पूर्व आईपीएस भारती घोष यहां चुनावी मुकाबले को रोचक बना रही हैं. तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी की कभी करीबी रहीं भारती घोष लोकसभा चुनाव से कुछ ही दिन पहले भाजपा में शामिल हुई हैं. इस सीट पर सीपीआई की तरफ से तपन गांगुली भी चुनाव में अपना भाग्य आजमा रहे हैं.