नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के दिल्ली पश्चिम के प्रत्याशी बलबीर सिंह ने बेटे द्वारा 6 करोड़ रुपए देकर टिकट खरीदने के दावे को नकार दिया है. आप प्रत्याशी बलबीर सिंह झाखर ने कहा कि मैं आरोपों की निंदा करता हूं. मैंने चुनाव लड़ने को लेकर कभी किसी भी तरीके की बातचीत अपने बेटे से नहीं की. मैं उससे कभी बात भी नहीं करता हूं.

बलबीर सिंह ने अपने बेटे के आरोपों को नकारते हुए कहा कि ‘मेरी पत्नी से मेरा तलाक 2009 को ही हो गया था. इसके बाद उसे उदय मेरे साथ नहीं रहता है. पिछले कई सालों से वह मेरे साथ नहीं रहता है. तलाक के बाद वह अपनी मां के साथ ही है.’ उन्होंने कहा कि ऐसे में जब मेरी किसी भी तरह की बातचीत नहीं करता हूं तो चुनाव की बात कैसे करूंगा.

‘आप’ प्रत्याशी के बेटे का बड़ा दावा, कहा- टिकट के लिए पिता ने केजरीवाल को दिए 6 करोड़ रुपए

बता दें कि आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी बलबीर सिंह के बेटे ने उन पर 6 करोड़ रुपए देकर टिकट खरीदने का दावा किया है. उदय ने कहा था कि मेरे पिता ने सिर्फ तीन माह पहले पॉलिटिक्स जॉइन की और फिर अरविंद केजरीवाल को 6 करोड़ रुपए देकर टिकट हासिल किया. उदय ने कहा था कि बलबीर सिंह ने करीब तीन माह पहले ही पार्टी जॉइन की थी. बलबीर के बेटे उदय आज मीडिया के सामने आए.

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, उन्होंने पत्रकारों से कहा कि ‘मेरे पिता ने करीब तीन माह पहले राजनीति में प्रवेश किया. मेरे पिता ने टिकट पाने के लिए दिल्ली के सीएम और पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल को 6 करोड़ रुपए दिए. तब उन्होंने टिकट मिला. उदय ने दावा किया कि उनके पास इस पास इस बात के पुख्ता सुबूत हैं कि मेरे पिता ने टिकट के लिए रुपए दिए. उन्होंने बताया कि ये रुपए सीधे केजरीवाल और गोपाल राय को दिए गए. उदय के अपने पिता के लिए कहा कि बिना अनुभव के टिकट देना चौंका देने वाला था.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com