लखनऊ: लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश के चार मंत्रियों के मैदान में उतरने के मद्देनजर चुनाव बाद राज्य मंत्रिमंडल का पहला विस्तार होने की संभावना है. भाजपा ने प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के चार मंत्रियों को चुनाव मैदान में उतारा है. इनमें ताजा नाम प्रदेश के सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी का है. उन्हें अंबेडकर नगर सीट से पार्टी का प्रत्याशी बनाया गया है. इस सीट पर लोकसभा चुनाव के छठे चरण में 12 मई को मतदान होगा.

योगी का गठबंधन पर हमला, कहा- आतंकियों को बचाने के एजेंडे पर काम कर रहे सपा-बसपा व कांग्रेस

भाजपा ने अपने प्रत्याशियों की पहली सूची में प्रदेश के पशु धन मंत्री एसपी सिंह बघेल को आगरा से उम्मीदवार बनाया था. आगरा में पिछली 18 अप्रैल को दूसरे चरण में मतदान हो चुका है. इसके अलावा जिन प्रत्याशियों को जिन मंत्रियों को भाजपा ने प्रत्याशी बनाया है उनमें राज्य की महिला एवं परिवार कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी (इलाहाबाद) और खादी ग्रामोद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी (कानपुर) भी शामिल हैं.

कन्‍नौज में बोले PM मोदी, महामिलावट के लोगों तुम सारी कोशिश कर लो आएगा तो…आवाज उठी मोदी-मोदी

इलाहाबाद में आगामी 12 मई को मतदान
रीता ने वर्ष 2014 का लोकसभा चुनाव लखनऊ सीट से राजनाथ सिंह के खिलाफ लड़ा था जिसमें वह दूसरे स्थान पर रही थीं. इलाहाबाद में आगामी 12 मई को मतदान होगा. वहीं, कानपुर में 29 अप्रैल को वोट पड़ेंगे. प्रदेश भाजपा प्रवक्ता हीरो बाजपेई ने बताया कि इन चारों मंत्रियों के अपने काम के प्रति समर्पण की वजह से पार्टी ने उन्हें प्रत्याशी बनाया है. (इनपुट एजेंसी)

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com