बांदा. यूपी के बांदा जेल में बंद बाहुबली मुख्तार अंसारी को दिल का दौरा पड़ा है. जिस वक्त उन्हें दिल का दौरा पड़ा. उन्हें अटैंड किया जा रहा था, तभी उनकी पत्नी को भी दिल का दौरा पड़ा. दोनों को बांदा के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है. बांदा में मेडिकल सुविधाओं की कमी को देखते हुए दोनों को लखनऊ रेफर किया जा सकता है. Also Read - शिवराज सिंह चौहान के ससुर का हुआ निधन, मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि

अंसारी साढ़े 8 महीने से बांदा जेल में बंद हैं. इससे पहले ऐसी खबरें आई थीं कि विधायक मुख्तार अंसारी को लखनऊ व आसपास की ही किसी जेल में शिफ्ट किया जा सकता है. दरअसल, ऐसा विधानसभा सत्र को देखते हुए किया जाने वाला कदम था. बाहुबली विधायक को इससे पहले उन्नाव जेल भी ले जाया गया था. यहीं से उन्हें हर रोज विधानसभा पहुंचाने का प्रबंध किया गया था. Also Read - बॉलीवुड के इन अभिनेताओं की पत्नियों के पास है खूब पैसा, पति से हैं एक कदम आगे

मंडल कारागार बांदा में बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की वजह से 24 घंटे सर्तकता बरती जाती रही है. दुर्दांत डाकू राधे, गोप्पा समेत 15 इनामिया इसी जेल में बंद हैं. विधायक को अलग बैरक में सामान्य कैदियों की भांति रखा गया है. मुख्य गेट के बाहर सुरक्षा के लिहाज से दीवार बना दी गई है. चप्पे-चप्पे पर चौकसी रहती है. Also Read - इन अभिनेताओं की पत्नियां बिजनेस में कमाती हैं मोटी रकम, अपने पति से भी अधिक है कमाई

विधायक यहां चुनिंदा लोगों से ही मिलते हैं. शनिवार को मिलाई का दिन न होने की वजह से किसी को भी नहीं मिलने दिया जाता है. जेल में बंद मुख्तार अंसारी पांचों वक्त नमाज अदा करने के बाद ज्यादातर वक्त किताब पढ़ने में व्यतीत करते हैं.

परिवार का आरोप, जहर दिया गया
मुख्तार अंसारी के परिवार के लोगों ने आरोप लगाया है कि जेल के अंदर अंसारी की चाय में जहर मिलाया गया था. परिवार ने कहा कि मुख्तार अंसारी अपनी पत्नी के साथ चाय पी रहे थे. चाय पीने के बाद दोनों की तबियत खराब हुई. दोनों लोगों के मुंह से सफेद झाग भी आया और शरीर धीरे-धीरे ठंडा होने लगा. परेशानी बढ़ने के बाद ही दोनों तक मदद पहुंचाई गई.