Section 144 Imposed In Lucknow: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने देश में कोरोना के नए वेरिएंट के लगातार बढ़ते मामले और न्यू ईयर, क्रिसमस को देखते हुए लखनऊ में धारा 144 लगा दी है. यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है और 5 जनवरी 2022 तक प्रभावी रहेगा. लखनऊ में क्रिसमस, 31 दिसंबर और नए साल की पार्टियों के दौरान कोविड प्रोटाकल का सख्ती से पालन करना, मास्क लगाना और दो गज की दूरी का पालन करना अनिवार्य होगा. संयुक्त पुलिस आयुक्त (Law and Order) पीयूष मोर्डिया द्वारा पारित आदेश में कहा गया है, ‘कोई भी उचित पुलिस अनुमति के बिना पांच या उससे अधिक लोगों का जुलूस नहीं निकलेगा. साथ ही शासन द्वारा लागू किये गये कोविड प्रोटोकाल का कड़ाई से अनुपालन करना होगा.Also Read - उपराष्ट्रपति M Venkaiah Naidu कोरोना वायरस से संक्रमित, खुद को किया क्वारंटीन

आदेशानुसार विधानसभा के आसपास धरना प्रदर्शन पर पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा. वहीं विधानसभा के आस पास ट्रैक्टर ट्राली, घोड़ागाड़ी, बैलगाड़ी, ज्वलनशील पदार्थ, सिलेंडर और हथियार आदि लेकर आवागमन पर भी प्रतिबंध रहेगा. वहीं, ऑनलाइन गतिविधियों पर साइबर क्राइम सेल की कड़ी नजर रहेगी. ऑनलाइन अफवाहें फैलाने वालों और आपत्तिजनक पोस्ट डालने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. Also Read - Omicron भारत में अब कम्युनिटी ट्रांसमिशन स्टेज में, कई महानगरों में हो गया है प्रभावी: INSACOG

पुलिस द्वारा जारी बयान के मुताबिक, शादी समारोह व अन्य आयोजनों में व्यक्तियों की उपस्थिति बंद स्थानों पर एक समय में अधिकतम 100 की कोविड प्रोटोकाल के तहत होगी. कोविड हेल्प डेस्क की बनाना भी जरूरी होगा. Also Read - Omicron Health Tips: ओमिक्रोन के लक्षण दिखते ही करें ये काम, जल्‍द मिलेगा आराम

लखनऊ में धारा 144 के दौरान 30 दिनों तक किसी भी प्रकार के सामूहिक आयोजन पर प्रतिबंध रहेगा. इन दिनों में शहर में किसी भी प्रकार का जुलूस नहीं निकलेगा और ना ही शाम 5 बजे के बाद एक जगह पर ज्यादा लोग एकत्रित हो सकेंगे. इसके अलावा रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक किसी तरह की तेज आवाज पर भी पाबंदी रहेगी.