भोपाल: एमपी में कांग्रेस ने सोमवार को दावा किया कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के लोकसभा क्षेत्र विदिशा से भाजपा के लगभग एक हजार कार्यकर्ताओं ने आज यहां प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की. हालांकि, बीजेपी ने इससे इंकार करते हुए कहा कि कांग्रेस झूठी अफवाह फैलाकर नौटंकी कर रही है. बता दें कि मध्यप्रदेश के सीएम बनने से पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी विदिशा से सांसद रह चुके हैं. कांग्रेस ने अपने ट्विटर हैंडल पर इसका वीडियो और फोटोज शेयर किए हैं.

मध्य प्रदेश कांग्रेस कार्यालय से मीडिया को जारी बयान में बताया गया कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के समक्ष विदिशा से बीजेपी नेता संतोष कुशवाहा के नेतृत्व में यहां आए उनके समाज के लगभग एक हजार बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की.

खबरों के मुताबिक इस मौके पर कमलनाथ ने कहा, ”मैं कांग्रेस में इन सभी का स्वागत करता हूं. वे सभी ऐसे व्यक्ति के क्षेत्र से आये हैं, जिनकी प्रदेश में लगभग पन्द्रह वर्षों से सत्ता है. मैं आपसे आह्वान करता हूं कि यदि उन्हें विकास का मॉडल देखना है तो एक बार मेरे क्षेत्र छिंदवाड़ा में जाकर देखें. वहां विकास कार्य देखने के बाद विदिशा और छिंदवाड़ा का अंतर स्वयं करें तो आपको विकास की परिभाषा अपने आप समझ में आ जाएगी.”

इस मामले पर एमपी बीजेपी के मीडिया प्रभारी लोकेन्द्र पाराशर ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ”यह कांग्रेस की ड्रामाबाजी एवं नौटंकी है. एक भी भाजपा का पदाधिकारी कांग्रेस में शामिल नहीं हुआ है. कांग्रेस झूठी अफवाह फैला रही है.” पाराशर ने कहा कि कांग्रेस यह बताए कि भाजपा का कौन सा पदाधिकारी उस गुट का नेतृत्व कर रहा था, जो कांग्रेस में शामिल हुए.” (इनपुट- एजेंसी)