छतरपुर. टीवी का प्रोग्राम देखकर स्टंट करना अक्सर जानलेवा साबित होता है. हालांकि टीवी सीरियल या अन्य कार्यक्रमों में इसके मद्देनजर हिदायतें भी दी जाती हैं, लेकिन आए दिन ऐसी घटनाओं के बारे में खबरें आती रहती हैं. मध्यप्रदेश के छतरपुर से भी मंगलवार को ऐसा ही एक दर्दनाक हादसा होने की खबर आई है. छतरपुर जिले में एक बालिका टीवी शो देखते-देखते फांसी के फंदे पर झूल गई. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

ईसानगर के थाना प्रभारी मनीष मिश्रा ने कहा, “मामला दर्ज कर लिया गया है. घटना की जांच की जा रही है और लोगों के बयान लिए जा रहे हैं. जांच के बाद ही पता चल पाएगा कि यह घटना कैसे हुई.” सूत्रों ने बताया कि पनौटा गांव में रविवार देर शाम भागीरथ अहिरवार अपनी पत्नी के साथ बाजार गया था. घर पर उसकी 12 वर्षीय बेटी अंजली अपनी बहनों और अन्य साथियों के साथ खेल रही थी. उसने एक ऊंचे हिस्से पर डोरी बांधी और नीचे फांसी का फंदा बनाया. फांसी के फंदे तक पहुंचने के लिए अंजली ने बाल्टी का सहारा लिया.

सूत्रों ने बताया कि बाल्टी को उल्टा रखकर उसने गर्दन को फांसी के फंदे में फंसाया और उसी बीच बाल्टी खिसक गई, जिससे वह फंदे पर झूल गई और उसकी मौत हो गई. ग्रामीणों ने कहा कि जब अंजली ने यह सब किया, उस समय टीवी पर किसी कार्यक्रम में फांसी के फंदे पर झूलने का दृश्य चल रहा था, जिसे उसने दोहराया और उसमें उसकी जान चली गई.

(इनपुट – एजेंसी)