भोपाल/ बेंगलुरु: बेंगलुरु में रुके मध्‍य प्रदेश के 22 बागी विधायकों ने कर्नाटक के डीजीपी को पत्र लिखकर कहा है कि किसी भी कांग्रेस नेता या सदस्‍य को हमसे मिलने की इजाजत न दी जाए. यहां हमारी जिंदगी को कोई खतरा नहीं है. इन विधायकों ने बेंगलुरु से वीडियो संदेश जारी कर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और अन्य कांग्रेस नेताओं से मुलाकात करने से इनकार कर दिया है. Also Read - मध्य प्रदेश में शराब की लत के शिकार 30 वर्षीय पुरुष समेत दो मरीजों की मौत, कोरोना के 22 नये मामले

विधायकों ने वीडियो में कहा है कि, वे अपनी मर्जी से बेंगलुरु में है. बागी विधायकों ने यह वीडियो संदेश दिग्विजय सिंह और अन्य नेताओं को बेंगलुरु पुलिस द्वारा हिरासत में लिए जाने के बाद जारी किया है. Also Read - डॉक्टर ने कार को बनाया घर, कुछ यूं कर रहे मरीज़ों का इलाज, लोग बोले- ऐसे कोरोना फाइटर्स को सलाम

कांग्रेस के 22 विधायक अपनी विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे चुके हैं, छह विधायकों का इस्तीफा मंजूर कर लिया गया है. इन विधायकों से मिलने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह अन्य नेताओं के साथ बैगलुरु पहुंचे.

कांग्रेस के बागी विधायकों ने वीडियो संदेश जारी कर कहा है, “वे अपनी मर्जी से बेंगलुरु आए हैं. बीते एक साल से हमारा कोई काम नहीं हुआ है, यहां हम लोग अपनी इच्छा से आए हैं. मेरा दिग्विजय सिंह व अन्य नेताओं से अनुरोध है कि वे वापस लौट जाएं, क्योंकि हम उनसे मुलाकात नहीं करना चाहते.” (इनपुट: एजेेंंसी)