भोपाल: मध्‍य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सरकार ने बुधवार को वित्त वर्ष 2018-19 के लिए बजट पेश किया. विधानसभा में अपने बजट भाषण में वित्तमंत्री जयंत मलैया ने कहा कि नए भारत की तर्ज पर नया मध्‍य प्रदेश बनाया जाएगा. इसके साथ ही उन्होंने शिक्षा, स्वास्थ्य और ग्रामीण क्षेत्रों के लिए अहम घोषणाएं की. राज्य सरकार में स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि राज्य में छह नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे. मलैया ने किसानों की आय दोगुनी करने, स्‍मार्ट सिटी के लिए अलग धन राशि का आवंटन करने और इंदौर-भोपाल में मेट्रो का कार्य शुरू करने की भी घोषणा की. आइए जानते हैं बजट की मुख्य घोषणाओं के बारे में Also Read - BJP MP नंद कुमार सिंह चौहान का COVID-19 के संक्रमण के चलते मेदांता अस्‍पताल में निधन

बजट की मुख्य घोषणाएं
स्कूल शिक्षा के लिए 21 हजार 724 करोड़ रुपये का प्रावधान. शिक्षकों व अतिथि विद्वानों का वेतन बढ़ाया जाएगा. अध्यापक संवर्ग को खत्म कर शिक्षक बनाया जाएगा.
लाडली लक्ष्‍मी योजना के लिए 9,000 करोड़ रुपये का प्रावधान. अब तक 27 लाख कन्याएं उठा चुकी हैं योजना का लाभ.
लोक स्वास्थ्य के लिए 5,689 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है. 6 नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे.
ग्रामीण क्षेत्रों में 10 बेड का अस्पताल खोलने पर सरकार अनुदान देगी. स्वास्थ्य स्कीम से 77 लाख परिवार को लाभ मिलेगा.
सहकारिता क्षेत्र के लिए 1,627 करोड़ रुपये का प्रावधान. इससे 28 लाख किसानों को लाभ हुआ है.
सिंचाई क्षेत्र के लिए 10,928 करोड़ रुपये का प्रावधान. जबलपुर, सागर और ओरछा में बायपास बनाने की घोषणा की गई.
किसानों की आय दोगुनी करने के लिए कृषि क्षेत्र के लिए 37,498 करोड़ रुपये का प्रावधान.
पशुपालन के लिए 1,038 करोड़ रुपये का प्रावधान. मत्स्य पालन के लिए 51 करोड़ 89 लाख रुपये दिए गए.
स्मार्ट सिटी के लिए 700 करोड़ रुपये का प्रावधान. इंदौर और भोपाल में मेट्रो लाइन के लिए कार्य शुरू करने की घोषणा.
राज्‍य में 532 नई सड़कें, 38 नए पुल बनाए जाने की घोषणा.
ऊर्जा क्षेत्र के लिए 18 हजार 72 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया.
बजट में मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजना के लिए 200 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है.
महिला एवं बाल विकास के लिए 3,722 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया. Also Read - Love Jihad: विधानसभा में ‘मध्यप्रदेश धार्मिक स्वतंत्रता विधेयक-2021’पेश होने के बाद अब बिल पर होगी चर्चा

Also Read - MP: रात के अंधेरे में कुंए में SUV गिरने से पुलिस-इंस्‍पेक्‍टर और सिपाही की मौत, सुबह गांव वाले खेत पहुंचे तो पता चला