#RIPahmedpatel: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के निधन से पार्टी स्तब्ध है. गांधी परिवार के करीबी और पार्टी के कोषाध्यक्ष पटेल के निधन को कांग्रेस के लिए बड़ी क्षति मानी जा रही है. मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भी पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के निधन पर दुख व्यक्त किया है. सिंह ने कहा कि वह सभी कांग्रेसियों के लिए हर राजनैतिक मर्ज़ की दवा थे.Also Read - राहुल गांधी ने कहा- राजस्थान की तर्ज पर शहरी रोजगार गारंटी योजना पूरे देश में लागू हो

कांग्रेस के वरिष्ठ रणनीतिकार पटेल (71) का गुरुग्राम के एक अस्पताल में बुधवार सुबह निधन हो गया. वह कोविड-19 से पीड़ित थे. Also Read - महाराष्ट्र: संजय राउत ने कहा- राज्यसभा चुनाव में निर्दलीय उम्मीदवार को समर्थन नहीं देगी शिवसेना

दिग्विजय ने ट्वीट किया, ‘अहमद पटेल नहीं रहे. एक अभिन्न मित्र, विश्वसनीय साथी चला गया. हम दोनों सन 1977 से साथ रहे. वे लोकसभा में पहुंचे, मैं विधान सभा में. हम सभी कांग्रेसियों के लिए वे हर राजनैतिक मर्ज़ की दवा थे. मृदुभाषी, व्यवहार कुशल और सदैव मुस्कुराते रहना उनकी पहचान थी.’’ Also Read - राशन उठाने वाले अनधिकृत लोगों से वसूली के ‘शासनादेश’ पर श्वेत पत्र जारी करे सरकार: कांग्रेस

उन्होंने कहा, ‘‘कोई भी कितना ही गुस्सा हो जाए, उनमें यह क्षमता थी कि वे उसे संतुष्ट करके ही भेजते थे. मीडिया से दूर, पर कांग्रेस के हर फैसले में शामिल. कड़वी बात भी बेहद मीठे शब्दों में कहना उनसे सीख सकता था. कांग्रेस पार्टी उनका योगदान कभी भी नहीं भुला सकती. अहमद भाई अमर रहें.”

दिग्विजय ने आगे लिखा, ‘‘अहमद भाई बहुत ही धार्मिक व्यक्ति थे और कहीं पर भी रहें, नमाज़ पढ़ने से कभी नहीं चूकते थे. आज देवउठनी एकादशी भी है जिसका सनातन धर्म में बहुत महत्व है. अल्ला उन्हें जन्नतउल फ़िरदौस में आला मक़ाम अता फ़रमाएँ. आमीन.’’

(इनपुट-भाषा)