Madhya Pradesh govt will provide an ex-gratia of Rs 50 lakhs to the family of ‘corona warrior’ Doctor Shubham Upadhyay: मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्‍यमंत्री शिवराजसिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने शुक्रवार को कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने वाले ‘corona warrior’ डॉक्‍टर शुभम उपाध्‍याय (Shubham Upadhyay) के परिवार को 50 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है.Also Read - कॉन्वेंट स्कूल में होने वाला था दर्जनों हिंदुओं का धर्मपरिवर्तन, पुलिस ने ऐन मौके पर पहुंचकर रुकवाया, 6 आरोपी गिरफ्तार

मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कहा है कि कोरोना योद्धा ’शुभम उपाध्याय के परिवार को 50 लाख रुपए की अनुग्रह राशि प्रदान की जाएगी, जिन्होंने COVID-19 रोगियों का इलाज करते हुए अपना जीवन खोया है. Also Read - अमेरिका में कोरोना से जान गंवाने वालों का आंकड़ा 10 लाख के पार, दुनिया भर में 62.63 लाख लोगों की हो चुकी है मौत

Also Read - राजस्थान में बढ़ रहे Corona के मामले, एक्सपर्ट बोले - तीसरी से ज्यादा घातक होगी चौथी लहर

8 अप्रैल को बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में नौकरी ज्वाइन की थी
बता दें कि मध्यप्रदेश के सागर स्थित सरकारी बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के 26 साल के युवा डॉक्‍टर शुभम उपाध्याय कीकोविड-19 के कारण की बीते बुधवार को भोपाल के एक निजी अस्पताल में मौत हो गई थी. वह बीते 10 नवंबर से भोपाल स्थित चिरायु मेडिकल कॉलेज के अस्‍पताल में भर्ती थे. डॉक्‍टर शुभम उपाध्याय ने इसी साल 8 अप्रैल को सागर के बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में संविदा चिकित्सक के रूप में ड्यूटी ज्वाइन की थी. वह वहां पर कोविड-19 मेडिकल अधिकारी थे.

डॉक्‍टर उपाध्‍याय 28 अक्टूबर को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे, 10 नवंबर तक उनका इलाज सागर के बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में चल रहा था, लेकिन हालत अधिक खराब होने के कारण डॉक्‍टर शुभम को 10 नवंबर को भोपाल के चिरायु मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में रेफर किया गया और तब से उनका इलाज इसी अस्पताल में चल रहा था. उनकी ज्‍यादा तबीयत बिगड़ने पर चेन्नई के डॉक्‍टरों की टीम यहां आकर लगातार उनकी निगरानी भी कर रही थी. फेफड़े ट्रांसप्लांट करवाने के लिए चेन्नई के एमजीएम अस्पताल ले जाने की तैयारी चल रही थी, इसी बीच शुभम की मौत हो गई.

मध्यप्रदेश सरकार ने इलाज का पूरा खर्च वहन करने की जिम्‍मेदारी ली थी
बता दें कि मध्यप्रदेश सरकार ने कहा था कि उनके इलाज का पूरा खर्च राज्य सरकार वहन करेगी. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किया था, ”मन पीड़ा और दुःख से भरा हुआ है. हमारे जांबाज कोरोना योद्धा डॉ. शुभम कुमार उपाध्याय, जो निःस्वार्थ भाव से दिन और रात एक कर कोविड-19 पीड़ितों की सेवा करते हुए संक्रमित हुए थे, उन्होंने आज अपने प्राण न्यौछावर कर दिए समाज की सेवा का अद्भुत और अनुपम उदाहरण डॉ. शुभम ने पेश किया.”

सीएम ने कहा था- मैं और सरकार, डॉ. शुभम उपाध्याय के परिवार के साथ खड़े हैं
मुख्‍यमंत्री चौहान ने कहा था, ”डॉक्टर बनते समय उन्हें जो शपथ दिलाई गई है, उसका एक-एक अक्षर डॉ. शुभम ने सार्थक कर दिखाया. उन्होंने देश का एक सच्चा नागरिक होने का परिचय दिया. मैं भारत मां के ऐसे सपूत के चरणों में श्रद्धासुमन अर्पित करता हूं और ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वे दिवंगत आत्मा को शांति दें.” सीएम कहा था, ”मुझे और पूरे मध्यप्रदेश को उन पर गर्व है. हमारी संवेदनाएं उनके परिजनों के साथ हैं. ईश्वर उन्हें यह वज्रपात सहने की क्षमता प्रदान करें. मैं और प्रदेश सरकार, डॉ. शुभम उपाध्याय के परिवार के साथ खड़े हैं.