उज्जैन: राजनैतिक दल मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में पूरी ताकत झोंक रहे हैं. वहीं, करीब डेढ़ दशक से सत्ता पर काबिज बीजेपी के नेताओं को लोगों के गुस्से के चलते मुश्किलों का सामना भी करना पड़ रहा है. एक गांव में जो हुआ उसका बीजेपी प्रत्याशी दिलीप सिंह शेखावत को अंदाजा तक नहीं था. गांव में वोट के लिए जनसंपर्क कर रहे बीजेपी प्रत्याशी दिलीप सिंह शेखावत लोगों से मिल रहे थे, इसी दौरान वह एक शख्स के सामने पैर छूने के लिए जैसे ही झुके वैसे ही उन्हें जूतों की माला पहना दी गई. ऐसा होते ही मौके पर अफरातफरी मच गई. Also Read - Coronavirus: मध्य प्रदेश में 19 नए मामले, इंदौर में 17 और लोग हुए संक्रमण का शिकार, राज्य में कुल 66 लोग संक्रमित

मध्य प्रदेश: जन आशीर्वाद यात्रा निकाल रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर फेंके गए पत्थर, बाल बाल बचे Also Read - मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण से एक और मौत, प्रदेश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 47 हुई

घटना मध्य प्रदेश के उज्जैन के मालवा रीजन की नागदा-खाचरौद के खेड़ावदा इलाके की है. बताया जा रहा है कि नागदा-खाचरौद विधानसभा सीट से दिलीप सिंह शेखावत विधायक हैं. पार्टी ने उन्हें फिर से टिकट दिया है. दिलीप सिंह शेखावत खेड़ावदा इलाके में सोमवार की शाम वोट मांग रहे थे. जनसंपर्क के दौरान वह एक शख्स के पैर छूने को झुके, जैसे ही झुके वैसे ही शख्स ने उन्हें जूतों की माला पहना दी. ऐसा होते ही मौजूदा विधायक और प्रत्याशी दिलीप सिंह ने अपने हाथों से माला हटाकर फेंक दी. उनकी उस शख्स की हाथापाई भी हो गई. प्रत्याशी ने उसे पीट दिया.

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव 2018: करीब 15 सीटों पर अपनों की बगावत से संकट में भाजपा

घटना का वीडियो भी वायरल हो रहा है. वीडियो कुछ सेकंड का है. सब कुछ इतना जल्दी हुआ कि किसी को कुछ समझ नहीं आया. घटना की कोई शिकायत नहीं की गई. बीजेपी प्रत्याशी दिलीप सिंह शेखावत ने कांग्रेस पर ऐसा करने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि यह सब सुनियोजित था. सुनियोजित तरीके से वीडियो बनाया गया और मीडिया को दिया गया.