भोपाल: मध्य प्रदेश की राजगगढ़ जिले में बजरंग दल हथियार चलाने की ट्रेनिंग की हैरान करने वाली फोटोज सामने आई हैं. बता दें कि आर्म्स की ट्रेनिंग सिर्फ सरकारी विभाग या सरकार से मान्यता प्राप्त संस्थाएं ही दे सकती हैं. लेकिन हथियारों की ये ट्रेनिंग कानूनी सवालों के दायरे में है. संगठन के नेता से जब इस पर पूछा गया तो उन्होंने देश विरोधी और लव जेहादी तत्वों से निपटने की बात कही है.

बजरंग दल की आर्म्स ट्रेनिंग का ये कैम्प राजगढ़ में आयोजित किया गया था. जिला संयोजक देवी सिंह सोंधिया ने कहा, ये रुटीन कैम्प है, जिसे सालभर में आयोजित किया जाता है. ये देश विरोधी और लव जेहादी तत्वों से निपटने के लिए है. फिलहाल इस मामले में अभी तक पुलिस या प्रशासन की ओर से किसी भी तरह की प्रतिक्रिया सामने नहीं आ सकी है.

बता दें कि बजरंग दल अपने कार्यकर्ताओं की संख्या बढ़ाने और युवकों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए कई गतिविधियां चलाता है. आमतौर पर पहले लाठी-डंडे का प्रशिक्षण देता जाता रहा है, लेकिन इस तरह की हथियारों की ट्रेनिंग संगठन की कार्यशैली पर भी सवालिया निशान हैं. एमपी में बजरंग दल की सदस्य संख्या काफी है और इसका बड़े क्षेत्र में कार्यकर्ता फैले हुए हैं.

(इनपुट- एजेंसी)