इंदौर: मध्यप्रदेश में विदेशी शराब की ऑनलाइन बिक्री को मंजूरी देने के निर्णय की आलोचना करते हुए भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने रविवार को प्रदेश की कमलनाथ की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार को ‘‘दारू बेचने वाली सरकार’’ करार दिया. Also Read - Shock to Employees: एमपी में 2.50 लाख से ज्‍यादा कर्मचारियों को बड़ा झटका, अब जल्‍द होंगे रिटायर

शर्मा ने यहां संवाददाताओं से कहा, “हम तो सोच रहे थे कि कमलनाथ सरकार सूबे में निवेश को बढ़ावा देते हुए नए कारखाने खुलवायेगी, युवाओं को रोजगार देगी, नए अस्पताल खोलेगी, किसानों को खाद-बीज मुहैया कराएगी और दूध उत्पादन को बढ़ावा देगी. लेकिन सरकार ने ऑनलाइन दारू (शराब) बेचने का फैसला किया है.” Also Read - MP: ना कोरोना का खौफ-ना जान की परवाह, भाजपा की कलश यात्रा का ये वीडियो देख आप क्या कहेंगे...

उन्होंने कहा, “यह दारू (शराब) बेचने वाली सरकार है. आगे-आगे देखते जाइये कि राज्य में क्या होता है.” शर्मा, भोपाल की हुजूर सीट से विधायक हैं. वह विधानसभा में प्रस्तुत “मध्यप्रदेश गोवंश वध प्रतिषेध (संशोधन) विधेयक 2019” पर विचार के लिए गठित प्रवर समिति की बैठक में हिस्सा लेने इंदौर आए थे. Also Read - MP सरकार का बड़ा फैसला, 18 लाख छात्रों को बगैर परीक्षा अगली कक्षा में मिलेगा दाखिला

भाजपा नेता ने कहा कि सूबे में पुलिस-प्रशासन की सख्ती के जरिए गो तस्करी पर लगाम लगाये जाने की जरूरत है ताकि दो संप्रदायों के बीच तनाव पैदा न हो. शर्मा ने एक सवाल पर कहा, “हम देश में बीफ (गोमांस) फेस्टिवल मनाये जाने के खिलाफ जंग छेड़ेंगे. हम ऐसे फेस्टिवल मनाने वाले लोगों को समझायेंगे कि वे गाय का दूध पीकर मस्त रहें और अगर वे इसे (गाय) खायेंगे, तो यह उन्हें खा जायेगी.”