बड़वानी: एमपी में एक बड़े कारोबारी की हत्या और दो बीजेपी नेताओं के मर्डर से राज्य की सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी कानून व्यवस्था को लेकर बीजेपी के निशाने पर आ गई है. रविवार को बड़वानी जिले में एक बीजेपी नेता की हत्या से सियासत और गर्मा गई है. बड़वानी जिले में रविवार को सुबह की सैर पर निकले भाजपा के मंडल अध्यक्ष मनोज ठाकरे का शव खेत में मिला है. उनकी पत्थर से कुचलकर हत्या किए जाने की आशंका जताई जा रही है. Also Read - भाजपा सरकार की न तो नीतियां सही हैं, नीयत, योगी राज में विकास का पहिया थम गया है : अखिलेश

वहीं, राज्य में चार दिन में एक बिजनेसमैन और दो बीजेपी नेताओं की हत्याओं कोलेकर बीजेपी नेता व पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि अपराधी बेखौफ हो गए हैं और राज्य में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है. वहीं, राज्य के गृहमंत्री बाला बच्चन ने हत्या में किसी करीबी के होने की आशंका जताई है.

शिवराजसिंह चौहान ने दी कमलनाथ सरकार को बड़ी चेतावनी
पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा, कांग्रेस बदलाव की बात किया करती थी लेकिन क्या ये बदलाव है? यहां हत्याएं शुरू हो गई हैं. एक इंदौर में हुई, इसके बाद मंदसौर में एक बीजेपी नेता को मार दिया गया. एक अन्य बीजेपी नेता की हत्या बड़वानी में हो गई. अपराधी बेखौफ हो गए हैं. पूरी तरह से कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, सरकार इसे हल्के में रही है. इसके पीछे (मंदसौर में बीजेपी नेता की हत्या ) बड़ी साजिश लग रही है. मैं सीबीआई जांच की मांग करता हूं. भाजपा नेता की हत्या बड़वानी में कर दी गई. मैं सरकार को चेतावनी देता हूं कि ऐसी घटनाओं को राके वर्ना बीजेपी सड़कों पर उतरेगी.

पुलिस के मुताबिकर, बालवाड़ी मंडल के अध्यक्ष ठाकरे रविवार की सुबह लगभग पांच बजे सैर पर निकले थे, मगर उनका शव खेत में मिला. सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची. शव के खून से लथपथ मिलने के कारण उनकी पत्थर से कुचलकर से हत्या किए जाने की आशंका जताई जा रही है.

बड़वानी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओमकार सिंह कलेश ने ठाकरे का शव खेत में मिलने की पुष्टि करते हुए कहा कि पुलिस मौके पर पहुंच गई है और जांच की जा रही है. राज्य के गृहमंत्री बाला बच्चन ने मीडियाकर्मियों से कहा, “ठाकरे की हत्या करने वाले उनके करीबी हो सकते हैं. मंदसौर में भी ऐसा ही हुआ था, वहां भी भाजपा नेता का हत्यारा उनका करीबी निकला.”

 

बता दें कि मंदसौर जिले में गुरुवार की रात को नगर पालिका अध्यक्ष प्रहलाद बंधवार की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस हत्या काआरोप भाजपा कार्यकर्ता मनीष बैरागी पर लगा. हत्या की वजह जमीनी विवाद बताया गया.

1. इंदौर में बीते 16 जनवरी को बुधवार की रात कारोबारी संदीप अग्रवाल की हत्या कर दी गई थी. संदीप के कई कारोबार हैं. उसका भवन निर्माण, कामोडिटी, केबिल का बड़ा कारोबार है. आशंका है कि इन्हीं कारोबारों को लेकर उसका अन्य कारोबारियों से विवाद था.

2 . मंदसौर में बीजेपी नेता और नगरपालिका अध्यक्ष प्रहलाद बंधवार की बीते 17 जनवरी को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस हत्याकांड में बीजेपी कार्यकर्ता मनीष बैरागी ही आरोपी निकला.

3. बड़वानी जिले में रविवार को सुबह की सैर पर निकले भाजपा के मंडल अध्यक्ष मनोज ठाकरे का शव खेत में मिला है. उनकी पत्थर से कुचलकर हत्या किए जाने की आशंका है.   (इनपुट: एजेंसी)