नई दिल्‍ली: मध्‍य प्रदेश की सियासत में एक मंत्री और विपक्षी दल बीजेपी के विधायक के बीच का विवाद मीडिया की सुर्खियों में है. बीजेपी विधायक का कहा कि वह कांग्रेस सरकार के मंत्री की धमकी से इतने डरे हुए हैं कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से सुरक्षा मांगेंगे. अगर उन्‍हें व उनके परिवार को कुछ भी हुआ तो मंत्री जिम्‍मेदार होंगे. ये आरोप बीजेपी विधायक बीरेंद्र रघुवंशी ने मध्‍य प्रदेश की कमलनाथ सरकार के मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर पर लगाए हैं. वहीं, मंत्री ने ऐसे किसी वाकये से साफ इनकार किया है. Also Read - Madhya Pradesh Lockdown Update: मध्य प्रदेश में 15 मई तक सबकुछ बंद रहेगा! मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की बड़ी घोषणा; यहां देखें दिशानिर्देश

बीजेपी एमएलए रघुवंशी ने कहा, मैं अमित शाह जी को सुरक्षा के लिए लिखूंगा. मुझे धमकाया गया है. देख लूंगा, जबान बंद कर ले…, ये भाषा मुझसे बोली गई है और केवल इसलिए कि मैंने महात्‍मा गांधी के नाम की सलाह दी थी. अगर मेरी परिवार और मुझे कोई भी खतरा हुआ तो केवल प्रद्युम्न सिंह तोमर जिम्‍मेदार होंगे. Also Read - Mahatma Gandhi's Personal Secretary Kalyanam Dies: महात्मा गांधी के निजी सचिव कल्याणम का 99 साल की उम्र में निधन

विधायक रघुवंशी ने बताया कि मैंने कल एक मीटिंग में शिवपुरी में मेडिकल कॉलेज का नाम रखने के लिए मैंने स्‍वर्गीय माधवराव सिंधिया की बजाय महात्‍मा गांधी के नाम की सलाह दी थी. इस पर मंत्री ने मुझे मीटिंग में धमकाया.

बीजेपी विधायक के धमकाने के आरोपों पर मंत्री तोमर ने कहा, मुझे ऐसे किसी वाकये की जानकारी नहीं है. मेडिकल कॉलेज का नाम स्‍वर्गीय माधवराव सिंधिया के नाम पर रखने का निर्णय आम सहमति से लिया गया था.