Madhya Pradesh Bridge Collapses: सिवनी जिला मुख्यालय से करीब 60 किलोमीटर दूर वैनगंगा नदी पर बना एक पुल उद्घाटन से पहले ही रविवार को बाढ़ में बह गया. पुल का निर्माण एक महीने पहले ही करीब तीन करोड़ रुपये की लागत से प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत पूरा हुआ था. सिवनी के कलेक्टर डॉ. एफ राहुल हरिदास ने कहा कि पुल के बहने के मामले में जांच की जाएगी. Also Read - MP में 25000 से ज्‍यादा वैकेंसी पर Recruitment, सीएम ने भर्ती प्रक्र‍िया शुरू करने के दिए निर्देश

उन्होंने कहा कि बरबसपुर हरदुली-सुनवारा सड़क में इस साल जुलाई में यह पुल बनकर तैयार हुआ था. करीब डेढ़ सौ मीटर लंबा पुल जोरदार बारिश व भीमगढ़ बांध से पानी छोड़े जाने के बाद वैनगंगा नदी में आई बाढ़ में बह गया है. हरिदास ने बताया कि दो साल पहले इस पुल का निर्माण कार्य शुरू हुआ था, जिसका अभी लोकार्पण भी नहीं हुआ था. Also Read - एमपी के गृहमंत्री ने कहा- "मैं मास्क नहीं पहनता", कांग्रेस ने पूछा-"क्या कायदे बस आम लोगों के लिए हैं?"

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक बांध से पानी छोड़े जाने के बाद नदी के निचले हिस्से में आई बाढ़ के कारण पुल के 10 फुट ऊपर तक पानी बहने लगा था. वैनगंगा नदी के प्रचंड वेग को पुल नहीं झेल सका. पुल का ऊपरी हिस्सा (स्लैब) बाढ़ के पानी के साथ बह गया. उन्होंने कहा कि इसके अलावा, इस पुल के नीचे खड़े किए गए टी गार्डर भी बाढ़ में ध्वस्त हो गए. Also Read - Mumbai Rain: मुंबई में बारिश से बढ़ी मुसीबतें, पानी से भरी लिफ्ट में फंसकर दो चौकीदारों की मौत