छिंदवाड़ा (मध्य प्रदेश): मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले की अमरवाडा कस्बे की विशेष अदालत ने साढ़े तीन साल की एक बच्ची से दुष्कर्म कर उसकी हत्‍या करने के मामले में 22 वर्षीय एक युवक को मृत्‍युदंड की सजा सुनाई. Also Read - मध्य प्रदेश के कबीर आश्रम में मानसिक रूप से कमजोर कई महिलाओं से रेप, एक ने जन्मा बच्चा

अदालत ने इस मामले में सह अपराधी को सात वर्ष के सश्रम कारावास की सजा सुनाई. यह जानकारी लोक अभियोजक समीर कुमार पाठक ने है. पाठक ने बताया कि विशेष न्यायालय ने इस मामले में दोनों आरोपियों को दोषी करार देते हुए भारतीय दंड संहिता और पॉक्सो अधिनियम के तहत उन्हें सजा सुनाई. Also Read - दो ढाबा मालिकों ने मुंबई की इवेंट मेनेजर से दिल्ली में किया रेप, फेसबुक पर हुई थी दोस्ती

पाठक ने बताया कि बच्ची को इस साल 17 जुलाई को मुख्य आरोपी रितेश धुर्वे ने 10 रूपये का नोट दिखाकर अपने पास बुलाया और अपने कमरे में ले जाकर उससे दुष्कर्म किया, जिससे उसकी मौत हो गई. उन्होंने बताया कि बाद में उसने धनपाल के साथ मिलकर शव को बोरी में भरकर माचागोरा बांध में फेंक दिया था. Also Read - सपा विधान परिषद सदस्य के यहां जन्मदिन पार्टी में चली गोली, एक की मौत, पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया