भोपाल: मध्य प्रदेश में कांग्रेस (Congress) के एक और विधायक नारायण पटेल (Narayan Patel) ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. वह कांग्रेस और विधायकी छोड़ भाजपा (BJP) में शामिल हो गए हैं. खंडवा जिले के मांधाता विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस विधायक नारायण पटेल ने गुरुवार को विधानसभा की सदस्यता से प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा को अपना इस्तीफा सौंप दिया है. Also Read - बागी विधायकों का दिल जीतने की कोशिश करेंगे अशोक गहलोत, बोले- यह मेरी जिम्मेदारी है

ज्ञात हो कि इससे पहले 24 तत्कालीन विधायक अपनी सदस्यता से त्यागपत्र दे चुके हैं. अब पटेल के इस्तीफे के बाद कांग्रेस छोड़ने और विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने वाले विधायकों की संख्या 25 हो गई है. इस तरह राज्य में कुल 27 विधानसभा क्षेत्र रिक्त हो गए हैं. इन क्षेत्रों में आगामी समय में उपचुनाव होंगे. Also Read - Rajasthan Political Crisis Ends: राजस्थान की राजनीति का पटाक्षेप, सचिन पायलट ने कहा- पद नहीं रखता कोई मायने

बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) की बगावत के बाद मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कांग्रेस सरकार गिर गई थी. ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने समर्थक विधायकों के साथ बीजेपी में शामिल हो गए थे. बीजेपी में शामिल होने से पहले सभी विधायकों ने इस्तीफ़ा दे दिया था. इससे कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई थी. और बीजेपी ने एक बार फिर सरकार बना ली है. ज्योतिरादित्य सिंधिया राज्यसभा सांसद हो गए हैं. Also Read - Political Crisis of Congress: मणिपुर में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, 6 विधायकों ने दिया इस्तीफा