भोपाल: मध्य प्रदेश में कांग्रेस (Congress) के एक और विधायक नारायण पटेल (Narayan Patel) ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. वह कांग्रेस और विधायकी छोड़ भाजपा (BJP) में शामिल हो गए हैं. खंडवा जिले के मांधाता विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस विधायक नारायण पटेल ने गुरुवार को विधानसभा की सदस्यता से प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा को अपना इस्तीफा सौंप दिया है.Also Read - Punjab ke CM: पंजाब के अंतिम हिंदू मुख्यमंत्री थे रामकिशन, राज्य बंटवारे के कारण देना पड़ा था इस्तीफा

ज्ञात हो कि इससे पहले 24 तत्कालीन विधायक अपनी सदस्यता से त्यागपत्र दे चुके हैं. अब पटेल के इस्तीफे के बाद कांग्रेस छोड़ने और विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने वाले विधायकों की संख्या 25 हो गई है. इस तरह राज्य में कुल 27 विधानसभा क्षेत्र रिक्त हो गए हैं. इन क्षेत्रों में आगामी समय में उपचुनाव होंगे. Also Read - UP Election 2022: कैराना में विधायक भाई नाहिद हसन के खिलाफ चुनाव लड़ेंगी इकरा चौधरी

बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) की बगावत के बाद मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कांग्रेस सरकार गिर गई थी. ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने समर्थक विधायकों के साथ बीजेपी में शामिल हो गए थे. बीजेपी में शामिल होने से पहले सभी विधायकों ने इस्तीफ़ा दे दिया था. इससे कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई थी. और बीजेपी ने एक बार फिर सरकार बना ली है. ज्योतिरादित्य सिंधिया राज्यसभा सांसद हो गए हैं. Also Read - RPN Singh के इस्तीफे पर कांग्रेस ने कहा- हमारी लड़ाई 'कायर' नहीं लड़ सकते