भोपाल: मध्य प्रदेश के गृह मंत्री (MP Home Minister) नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने बृहस्पतिवार को कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) पर विवादित बयान देने पर राहुल गांधी पर प्राथमिकी दर्ज करने को लेकर वह कानूनी विशेषज्ञों से चर्चा करेंगे. मध्‍य प्रदेश के गृह मंत्री ने कल राहुल गांधी को इच्छाधारी हिंदू बताया था और तंज कसते हुए कहा कि सुविधा से वह टोपी और टीका लगाते हैं.Also Read - भोपाल में सरेआम लड़की से बुर्का उतरवाया, सोशल मीडिया पर Viral हुआ Video

बता दें कि बीते बुधवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं भाजपा पर आरोप लगाया था कि ये लोग ‘फर्जी हिंदू’ हैं और अपने लाभ के लिए ‘धर्म की दलाली’करते हैं. राहुल ने कांग्रेस की महिला इकाई ‘अखिल भारतीय महिला कांग्रेस’ के स्थापना दिवस समारोह को संबोधित करते हुए कहा था कि कांग्रेस की विचारधारा भाजपा-आरएसएस के बिल्कुल विपरीत है और दो विचारधाराओं में से केवल एक ही देश पर शासन कर सकती है. Also Read - सिद्धू का नया पैंतरा-पहले इस्तीफा, फिर लिया वापस, अब सोनिया गांधी को लिखा खत, मिलना चाहता हूं

राहुल गांधी द्वारा संघ ( Rashtriya Swayamsevak Sangh) के बारे में दिए गए विवादित बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए भोपाल में मिश्रा ने मीडिया से कहा, ”क्या है राहुल गांधी इच्छाधारी हिंदू है. सुविधा से वह टोपी और टीका लगाते हैं, धार्मिक पर्यटन पर जाते हैं और उसके बाद इस तरह की बात करते हैं.” उन्होंने कहा, ”अभी तक मैं मानता था कि बालपन है. लेकिन जब संघ के बारे में इन्होंने ऐसा बोला तो मन को पीड़ा हुई. संघ को वह क्या समझ पाएंगें.” Also Read - UP Election 2022: BSP के 'जाटव' वोटों में सेंध की तैयारी में BJP, मायावती के खिलाफ प्रत्याशी के नाम पर मुहर

मध्‍य प्रदेश के गृह मंत्री ने मिश्रा ने कहा, ”जब किसी संस्था/व्यक्ति का विदेशी मूल होता है तो यह विसंगति रहती है. इसलिए मैं कानून विशेषज्ञों से राय लूंगा कि इस विषय पर प्राथमिकी की जा सकती है क्या?” इसके कुछ देर बाद मिश्रा ने ट्वीट किया, ”राहुल गांधी इच्छाधारी हिंदू है. आरएसएस पर दिए बयान को लेकर राहुल गांधी पर प्राथमिकी को लेकर मैं कानूनी विशेषज्ञों से चर्चा करूंगा.”