गुना (मध्यप्रदेश). मध्यप्रदेश में 15 साल बाद सत्ता में लौटी कांग्रेस के ऊपर से विवादों का साया हटता नहीं दिख रहा है. मुख्यमंत्री कमलनाथ के शपथ ग्रहण के तुरंत बाद बिहार-उत्तर प्रदेश के नौजवानों के कारण मध्यप्रदेश के युवाओं को रोजगार न मिलने और हालिया वंदे-मातरम विवाद की गर्मी अभी कम भी नहीं हुई है कि प्रदेश सरकार के एक मंत्री का विवादित बयान सुर्खियों में आ गया है. मध्य प्रदेश के श्रम मंत्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया का बृहस्पतिवार को एक कथित विवादित वीडियो वायरल हुआ, जिसमें वह धमकी दे रहे हैं कि जो अधिकारी-कर्मचारी लोगों का काम नहीं करेंगे, उन्हें लात मारकर बाहर कर दिया जाएगा. सिसोदिया ने 31 दिसंबर को कथित तौर पर यह टिप्पणी तब की जब गुना जिले के अपने विधानसभा क्षेत्र बमोरी के ग्राम हिनोतिया से आए लोगों ने इलाके में बिजली कटौती की शिकायत की.

वायरल हुए वीडियो में वह ग्रामीणों द्वारा की गई शिकायत पर यह कहते नजर आ रहे हैं, ‘‘जो अधिकारी-कर्मचारी कर्तव्यों का पालन नहीं करेगा, उसको लात देकर बाहर कर दिया जाएगा.’’ इसके बाद वहां मौजूद लोग उनकी तारीफ में नारे लगाने लगे. इस पर सिसोदिया से उनकी टिप्पणी जानने के लिए संपर्क करने के कई प्रयास किए गए, लेकिन संपर्क नहीं हो सका. एक तरफ वंदे-मातरम को लेकर भाजपा के हमले झेल रही मध्यप्रदेश सरकार जहां इससे निपटने में लगी है, वहीं दूसरी ओर मंत्रियों के विवादित बयानों से सीएम कमलनाथ मुश्किलों में पड़ सकते हैं. बहरहाल, पहले भाजपा के विधायक का विवादित वीडियो का वायरल होना और अब कांग्रेस के मंत्री का यह बयान, एमपी की राजनीति में नया गुल खिलाएगा.