भोपाल: मध्य प्रदेश में कोरोना का हॉटस्पॉट बन चुका इंदौर में इस बार संक्रमण से एक चिकित्सक की मौत हो गई है. इस मौत के साथ मरने वाले मरीजों की संख्या इंदौर में 22 हो चुकी है. मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण जड़िया ने बताया कि गुरुवार के दिन सुबह एक डॉक्टर की कोरोना वायरस से संक्रमित हो जाने के कारण मौत हो गई. Also Read - उत्तराखंड कैबिनेट को क्‍वारंटाइन में भेजने की जरूरत नहीं: स्वास्थ्य सचिव

बता दें कि बुधवार के दिन इंदौर में 6 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई थी. वहीं 40 नए कोरोना संक्रमित मरीजों के पाए जाने के बाद इंदौर शहर में यह संख्या बढ़कर 213 हो चुकी है. मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि कोरोना संक्रमण से जिन डॉक्टर की मौत हुई है, वह काफी दिनों से कोरोना संक्रमित लोगों का इलाज कर रहे थे. इस बीच किसी कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने के कारण वह भी कोरोना संक्रमित हो गए. दो दिन पहले ही उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इलाज के दौरान गुरुवार के दिन उनकी मौत हो गई. Also Read - Coronavirus Lockdown: स्कूलों को फिर से खोलने की योजना पर अभिभावकों की बढ़ी चिंता, जानें क्या सरकार प्लानिंग

बता दें कि अबतक कोरोना के 25 मरीजों का इलाज भी किया जा चुका है. प्रदेश के इंदौर जिले में173, भोपाल में 93, जबलपुर में 8, ग्वालियर 6, उज्जैन में 15, मुरैना में 13, खरगोन में 12, बड़वानी में 12, शिवपुरी व छिंदवाड़ा में दो-दो और बैतूल, विदिशा, श्योपुर व अन्य राज्य से आए एक-एक मरीजों के नमूने पॉजिटिव पाए गए हैं. वहीं अब तक 24 लोगों की मौत हो चुकी है. इनमें इंदौर में मरने वालों की संख्या 16 हो गई है, वहीं उज्जैन में पांच और भोपाल, खरगोन व छिंदवाड़ा में एक-एक मरीज की मौत हुई. Also Read - Delhi-Haryana Border: दिल्ली-हरियाणा सीमा पार करने के लिए अब ट्रेवल पास की नहीं होगी जरूरत