नई दिल्ली: देशभर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या अब 4 हजार के पार पहुंच चुकी है. वहीं मृतकों की संख्या भी 100 के आंकड़े को पार कर चुकी है. ऐसे में मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी यानी इंदौर की हालत काफी भयावह है. पूरे राज्य में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले इंदौर से सामने आ रहे हैं. यहां मौत का आंकड़ा भी लगातार बढ़ रहा है. रविवार के दिन यहां 2 और कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई. पूरे राज्य की बात करें तो अब तक करोना के कारण कुल 13 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. इसमें 9 मौतें इंदौर में हुई हैं. Also Read - Coronavirus Cases In Indore: इंदौर पर मंडरा रहा बड़ा खतरा, 1300 लोगों की आज आएगी कोरोना की रिपोर्ट

बता दें कि इंदौर के महात्मा गांधी स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय के अनुसार, इंदौर में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 131 हो गई है, वहीं दो मरीजों की मौत होने से मरने वालों की संख्या नौ हो गई है. इसके अलावा उज्जैन में दो, खरगोन व छिंदवाड़ा में एक-एक मरीज की मौत हुई है. वहीं अगर पूरे राज्य में कोरोना संक्रमितों की बात की जाए तो यह आंकड़ा 193 पहुंच चुका है. यही नहीं यहां कोरोना की चपेट में दो प्रदेश की स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव और दो महिला उपसचिव अधिकारी भी कोरोना की चपेट में आ चुकी हैं. Also Read - Covid-19: मध्य प्रदेश के हॉटस्पॉट में 2 कोरोना संक्रमितों की मौत, 32 पहुंची संख्या

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार इंदौर में 135, भोपाल में 17, जबलपुर में आठ, उज्जैन में सात, मुरैना में 12, खरगोन में तीन, ग्वालियर, शिवपुरी व छिंदवाड़ा में दो-दो मरीजों के सैंपल पॉजिटिव पाए गए हैं. इसी के साथ मध्य प्रदेश में कुल कोरोना पीड़ितों की संख्या पूरे प्रदेश में 193 पहुंच चुका है. गौरतलब है कि कुछ दिन पहले स्वास्थ्य विभाग के कुछ अधिकारी टाटपट्टी बाखल इलाके में लोगों की स्क्रीनिंग के लिए पहुंचे थे. लेकिन यहां लोगों के बारे में पूछने पर भीड़ ने डॉक्टरों की टीम पर पथराव करना शुरु कर दिया. इस दौरान 2 महिला डॉक्टरों को चोट भी आई थी. खबरों की मानें तो जिस इलाके में पथराव किया गया था, वह इलाका कोरोना का हॉटस्पाट बन चुका है. Also Read - Coronavirus Cases In Indore: नहीं थम रहा मौत का आंकड़ा, कोरोना से एक डॉक्टर ने गंवाई जान