भोपाल: मध्य प्रदेश में कोरोनावायरस की रोकथाम की कोशिशों के बीच इंदौर, भोपाल और उज्जैन में बढ़ते संक्रमण ने सरकार की चिंताएं बढ़ा दी है. यही कारण है कि, सरकार को तीनों जिलों को पूरी तरह सील करने का फैसला लेना पड़ा है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर तीनों ही स्थानों पर पुलिस बल को और चुस्त-दुरुस्त कर दिया गया है. बेवजह घूमने वालों को गिरफ्तार भी किया जा रहा है. राज्य में अब तक 381 कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए गए है, उनमें 213 इंदौर, 94 भोपाल और 15 उज्जैन में पाए गए है. इंदौर में तो 22 मरीजों और उज्जैन में पांच की मौत हो चुकी है. भोपाल में एक मरीज ने दम तोड़ा है. इसी के चलते तीनों ही जिलों में सरकार ने सख्ती से सील करने के निर्देश दिए हैं. यहां जो भी घरों से बाहर पाया जा रहा है, उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. Also Read - इंदौर में कोरोनावायरस : रेड जोन इंदौर में संक्रमितों की संख्या 3,000 के पार, अब तक 114 मरीजों की मौत

इंदौर के पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) हरि नारायण चारी मिश्र ने आईएएनएस को बताया, “लोगों के घरों से निकलने पर पूरी तरह पाबंदी है, पुलिस बल की तैनाती है. जो लोग भी घरों से बेवजह बाहर निकल रहे हैं, उन्हें गिरफ्तार कर सीधे जेल भेजा जा रहा है. अब तक 125 से ज्यादा लोगों को घूमते पाए जाने पर जेल भेजा जा चुका है.” मुख्यमंत्री चौहान ने तीनों जिलों को पूरी तरह सील किए जाने के साथ इन क्षेत्रों में जिला प्रशासन आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के आदेश दिए हैं. इन क्षेत्रों से कोई भी व्यक्ति अंदर-बाहर आ-जा नहीं सकेंगे. कोरोना संबंधी कार्य में सभी शासकीय विभागों की तथा उनके संसाधनों की सेवाएं ली जाएं. Also Read - इंदौर में कोरोनावायरस : 3,000 के करीब पहुंच रही संक्रमितों की संख्या, अब तक 111 मरीजों की मौत

मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदेशवासियों से आग्रह किया है कि संक्रमण से बचने के लिए हर व्यक्ति मास्क लगाकर ही घर से बाहर निकले. उन्होने कहा कि होममेड मास्क का भी प्रयोग किया जा सकता है. इसी तरह उज्जैन में भी सीमाओं को पूरी तरह सील कर दिया गया है और लोगों के बेवजह बाहर निकलने पर पाबंदी लगा ली गई है. कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी शशंक मिश्रा ने कहा कि अन्य जिलों तथा विदेश से आए हुए व्यक्ति स्वयं को क्वारेंटीन में रखे तथा इसकी सूचना कंट्रोल रूम पर 104 पर दें. ऐसे व्यक्ति यदि सूचना नहीं देते हैं एवं खुले में घूमते पाए जाते हैं तो उनके विरुद्घ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. Also Read - इंदौर में Coronavirus से तीसरे सीनियर डॉक्‍टर की मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 2800 के पार

उज्जैन में भी बेवजह घूमने वालों को गिरफ्तार किया जा रहा है. प्रशासनिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, अब तक उज्जैन में 20 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. वहीं लोगों केा सचेत व सतर्क किया जा रहा है. वहीं भोपाल में भी टोटल सील किए जाने को अमल में लाया जा रहा है, हर जगह पुलिस बल की तैनाती है. लॉकडाउन का जिले में पुलिस प्रशासन द्वारा कड़ाई से पालन कराया जा रहा है. इसके साथ ही जनसामान्य को समझाइश भी दी जा रही है. विभिन्न स्थानो पर लॉकडाउन का उल्लंघन करते पाए जाने पर विभिन्न धाराओं में पुलिस ने 79 प्रकरण दर्ज किए हैं. लॉकडाउन के दौरान पुलिस द्वारा 22 मार्च से अब तक 753 मामले दर्ज किए जा चूके हैं.