इंदौर: देश में कोरोना वायरस के प्रकोप से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में शामिल मध्‍य प्रदेश के इंदौर में इस महामारी से दो और मरीजों की मौत हो गई है. इसके साथ ही, जिले में इस वायरस के संक्रमण के कारण दम तोड़ने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 81 पर पहुंच गई है. Also Read - Cinema Halls Will Reopen: इसी माह खुल जाएंगे सिनेमा घर! जानिए सरकार क्या कर रही प्लानिंग

इंदौर में पिछले 24 घंटे में इदौंर में कोरोना वायरस के 27 और मरीज मिले है, जिससे कुल मरीजों की संख्‍या 1,654 से बढ़कर 1,681 हो गई है. इनमें से 491 मरीजों को इलाज के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है. Also Read - डोनाल्ड ट्रंप ने की पीएम नरेंद्र मोदी से बात, कहा- अगले हफ्ते तक भारत भेजेंगे 100 वेंटिलेटर्स

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) प्रवीण जड़िया ने बुधवार को बताया कि कोविड-19 से संक्रमित दो मरीजों ने शहर के अस्पतालों में पिछले दो दिन में अंतिम सांस ली. कोरोना वायरस के शिकार मरीजों में शामिल 36 वर्षीय पुरुष डायबिटीज और हाईब्‍ल्‍डप्रेशन से पहले ही पीड़ित था, जबकि 75 वर्षीय बुजुर्ग संबंधी बीमारी से जूझ रहे थे. Also Read - पेसर मोहम्मद शमी बोले-हम अब भी सोचते हैं कि माही भाई आएंगे और...

सीएमएचओ ने बताया कि जिले में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस के 27 और मरीज मिले. इसके बाद इस महामारी की जद में आए लोगों की तादाद 1,654 से बढ़कर 1,681 पर पहुंच गई है. इनमें से 491 मरीजों को इलाज के बाद संक्रमणमुक्त होने पर अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है.

ताजा आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि रेड जोन में शामिल इंदौर जिले में बुधवार सुबह की स्थिति में कोविड-19 के मरीजों की मृत्यु दर 4.82 प्रतिशत थी. पिछले 10 दिन से जिले में कोविड-19 के मरीजों की मृत्यु दर पांच प्रतिशत से कम बनी हुई है.

इंदौर में कोरोना वायरस का पहला मरीज मिलने के बाद से प्रशासन ने 25 मार्च से शहरी सीमा में कर्फ्यू लगा रखा है, जबकि जिले के अन्य स्थानों पर सख्त लॉकडाउन लागू है.