भोपाल: मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा के उपचुनाव को पर्यटन और संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर (Usha Thakur) ने देश भक्त और देशद्रोहियों के बीच का चुनाव बताया है. वहीं, कांग्रेस ने मंत्री के इस बयान की शिकायत निर्वाचन आयोग से की है. पर्यटन मंत्री उषा से संवाददाताओं ने राज्य के उपचुनाव को लेकर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि “भाजपा और कांग्रेस के बीच वैचारिक युद्ध है, ये देशभक्त और देशद्रोही के बीच का निर्वाचन है. जिनको राष्ट्रवादिता से प्रेम था, वे भाजपा के साथ हैं, जो राष्ट्रवाद से विमुख हुए वे कांग्रेस में चले गए.” उन्होंने आगे कहा, “हम वैचारिक अनुष्ठान के लिए राजनीति करते हैं, हम विधायक, सांसद या मंत्री बनने के लिए राजनीति नहीं करते.” Also Read - भूमि कानूनों में संशोधनों पर कांग्रेस ने कहा- जम्मू-कश्मीर की जनता छला हुआ महसूस कर रही है

कांग्रेस की प्रदेश इकाई के प्रवक्ता और निर्वाचन आयोग कार्य के प्रभारी जे.पी. धनोपिया ने उषा ठाकुर के बयान की मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से शिकायत की है. शिकायत में कहा गया है कि भाजपा नेताओं द्वारा उपचुनाव में राष्ट्रवाद और सांप्रदायिकता का जहर घोलकर चुनाव को प्रभावित करने का षड्यंत्र रचा जा रहा है. Also Read - केंद्र के एग्रीकल्‍चर एक्‍ट को निष्‍प्रभावी करने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार ने कृषि उपज मंडी संशोधन बिल 2020 पारित किया

कांग्रेस ने मंत्री उषा ठाकुर को मंत्रिमंडल से हटाने की भी मांग की है. राज्य में 28 विधानसभा क्षेत्रों में कुछ दिनों बाद उपचुनाव होने वाले हैं. उपचुनाव की तारीखों का ऐलान मंगलवार को होने की संभावना है. इससे पहले ही दोनों दलों- कांग्रेस और भाजपा की ओर से बयानों के तीर चलाए जाने लगे हैं. Also Read - महबूबा मुफ्ती और फारूक अब्दुल्ला को भारत में रहने का अधिकार नहीं: केंद्रीय मंत्री