भोपाल: मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के हबीबगंज रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर एक व्यक्ति की लाश कथित रूप से घंटों पड़ी रही. पुलिस को शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई. हालांकि, रेलवे पुलिस ने इस आरोप से इंकार किया है कि लाश घंटों प्लेटफॉर्म पर पड़ी रही, लेकिन इसका वीडियो गुरुवार को सोशल मीडिया में वायरल हो गया. पुलिस ने इसके जांच के आदेश दिये हैं. इस रेलवे स्टेशन को विश्व स्तर का बनाया जाना है और इसके लिए काम चल रहा है.

भोपाल रेलवे के पुलिस अधीक्षक मनोज राय से इसके बारे में पूछे जाने पर उन्होंने बताया, ‘‘जैसे ही मुझे इस वीडियो के बारे में जानकारी हुई, मैं तुरंत हबीबगंज रेलवे स्टेशन गया, ताकि सच्चाई का पता लग सके.’’ उन्होंने कहा कि यह सही नहीं है कि व्यक्ति का शव आठ से दस घंटे तक प्लेटफॉर्म पर पड़ा रहा.

पत्नी से हुई लड़ाई में उमा भारती के पीएसओ ने अपनी सर्विस पिस्टल से कर ली आत्महत्या

घटना के बारे में स्पष्टीकरण देते हुए राय ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज के अनुसार यह व्यक्ति आज सुबह पांच से साढ़े पांच बजे तक जीवित था और दुर्भाग्य से उसके बाद उसकी मृत्यु हो गई. उन्होंने बताया कि एक यात्री ने इस व्यक्ति का वीडियो बनाया और रेलवे कर्मियों को इसकी निगरानी करने के लिए कहा. लेकिन उन्होंने कथित रूप से कहा कि यह रेलवे पुलिस (जीआरपी) का मामला है और वही इसको देखेगी.

शर्मनाक: सास-बहू के झगड़े में पत्नी के साथ मिलकर बेटे ने ही कर दी मां की हत्या

वीडियो के अनुसार जब वीडियो बनाने वाला यह यात्री जीआरपी पुलिस स्टेशन गया और वहां ड्यूटी पर तैनात कॉन्स्टेबल को बताया कि एक व्यक्ति की लाश प्लेटफॉर्म पर पड़ी है तो उसने (कॉन्स्टेबल) कहा कि वे (जीआरपी पुलिस) मेमो पाने के बाद ही इस पर कार्रवाई करेंगे.

एमपी: मंदसौर रेपकांड में 59 वें दिन कोर्ट ने दोनों रेपिस्टों को सुनाई फांसी की सजा

वीडियो में दिखता है कि इससे यात्री और भी आक्रोशित हो गये. हालांकि, राय ने कहा, ‘‘मैंने इस मामले को गंभीरता से लिया है और पुलिस उपाधीक्षक स्तर के अधिकारी को तुरंत जांच करने के आदेश दिये हैं.’’ उन्होंने माना कि कॉन्स्टेबल का जवाब उचित नहीं था. उसे तत्काल कार्रवाई करनी चाहिए थी. राय ने बताया कि जांच रिपोर्ट प्राप्त होने पर अगर कोई पुलिसकर्मी दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.