मुरैना. अवैध रेत उत्खनन रोकने पर वन विभाग के 50 वर्षीय उप रेंजर को शुक्रवार की सुबह यहां रेत माफियाओं ने कथित रूप से जान बूझकर ट्रैक्टर-ट्राली से कुचल दिया, जिससे उनकी मौत हो गई. मुरैना के पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने बताया, डिप्टी रेंजर सूबेदार सिंह कुशवाहा की रेत माफियाओं ने ट्रैक्टर से कुचलकर आज सुबह करीब आठ बजे हत्या कर दी. उन्होंने कहा कि वह मुरैना के निकट राष्ट्रीय राजमार्ग-3 पर बनी वन विभाग की चेक पोस्ट पर अपने साथियों सहित ड्यूटी पर तैनात थे. चम्बल घड़ियाल अभ्यारण्य एरिया से अबैध रेत उत्खनन व परिवहन रोकने के लिए यहाँ जिला टॉस्क फ़ोर्स ने यह वन चेक पोस्ट बनाई है.

सांघी ने बताया कि आज सुबह करीब 8:00 बजे चंबल नदी से अवैध उत्खनन कर रेत भरकर आ रही ट्रैक्टर-ट्रॉली को वहां तैनात डिप्टी रेंजर सूबेदार सिंह कुशवाहा ने सड़क पर कांटा पट्टी डालकर रोकने की कोशिश की. इस दौरान एक ट्राली तो आगे निकल गयी लेकिन इसी बीच पीछे से आ रही दूसरी ट्रॉली ने उन्हें कुचल दिया. उन्होंने कहा कि घटना के बाद कुशवाहा को तत्काल जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

ट्रैक्टर-ट्राली लेकर भागे
सांघी ने बताया की घटना के बाद अवैध रेत से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली को रेत माफिया मौके से लेकर भाग गए. उन्होंने कहा कि आसपास के एरिया में लगे सीसीटीवी कैमरों की मदद से आरोपियों की पहचान की जा रही है. सांघी ने बताया कि घटना में संलिप्त अभी किसी भी ट्रैक्टर-ट्रॉली चालक व मालिक का पता नहीं चल सका है.

अज्ञात के खिलाफ मुकदमा
उन्होंने कहा कि सिविल लाइन पुलिस थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ के भादंवि की धारा 302 (हत्या) के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है और पुलिस व वन विभाग की टीमें आरोपियों की तलाश कर रही है. सांघी ने बताया कि कुशवाहा का जिला अस्पताल मुरैना में पोस्टमॉर्टम किया जा रहा है।