भोपाल: वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के ‘टाइगर अभी जिंदा है’ वाले बयान पर शुक्रवार को जवाबी हमला करते हुए कहा कि ‘एक जंगल में एक ही शेर रहता है’. इसके अलावा, राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह ने अपने अतीत को याद करते हुए कहा कि जब शेरों का शिकार प्रतिबंधित नहीं था, तब वह ज्योतिरादित्य सिंधिया के पिता माधवराव सिंधिया के साथ शेरों का शिकार किया करते थे.Also Read - MP के मंत्री सारंग बोले- नेहरू के 1947 के लाल किले के भाषण से शुरू हुई अर्थव्यवस्था की बदहाली

उन्होंने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मंत्रिपरिषद विस्तार के एक दिन बाद सिंधिया पर यह तंज कसा है. इस मंत्रिपरिषद विस्तार में कांग्रेस छोड़ भाजपा में मार्च में शामिल हुए सिंधिया के समर्थकों को बड़ी तादात में जगह मिली है. Also Read - MP में 'फ्री फायर' के चलते दूसरी सुसाइड: ऑनलाइन गेम में 40 हजार गंवाने पर 13 साल के छात्र ने फांसी लगाई

Also Read - MP: 150 साल पुरानी भिंड जेल की बैरक की दीवार ढही, 22 कैदी गंभीर रूप से घायल

मालूम हो कि मंत्रिपरिषद के विस्तार के बाद मीडिया से बात करते हुए सिंधिया ने कांग्रेस पर अपना एवं अपने समर्थकों की छबि खराब करने का आरोप लगाते हुए बृहस्पतिवार को कहा था, ‘कांग्रेस को मैं पूर्ण रुप से जवाब दूंगा और इसमें कोई दो राय नहीं है. पर अभी इतना ही कहना चाहता हूं मैं, खासकर कमलनाथ जी को और दिग्विजय सिंह जी को कि ‘टाइगर अभी जिंदा है’.’ इसके जवाब में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय ने कहा, ‘समय बड़ा बलवान. भाजपा का भविष्य!! ना जाने इस मंत्रिपरिषद विस्तार ने कितने भाजपा के ‘टाइगर’ ज़िंदा कर दिये. देखते जाइये.’

उन्होंने आगे लिखा, ‘शेर का सही चरित्र आप जानते हैं? एक जंगल में एक ही शेर रहता है!’ दिग्विजय ने एक अन्य ट्वीट में सिंधिया पर तंज कसते हुए कहा, ‘जब शिकार प्रतिबंधित नहीं था, तब मैं और श्रीमंत माधवराव सिंधिया जी शेर का शिकार किया करते थे. इंदिरा जी के वाइल्डलाइफ़ कंज़र्वेशन एक्ट लाने के बाद से मैं अब सिर्फ शेर को कैमरे में उतारता हूँ.’

(इनपुट भाषा)