नई दिल्ली. देश की आबादी में बमुश्किल एक प्रतिशत हिस्सेदारी वाले बुजुर्गों की हालत इन दिनों बदहाल है. केंद्र और राज्य सरकारों की विभिन्न योजनाओं के बावजूद बुजुर्गों की सेहत, उनकी सुरक्षा आदि की चिंताएं अब भी बनी हुई हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत में 12 करोड़ से अधिक लोग 60 वर्ष से अधिक उम्र के हैं और इनमें से लगभग छह प्रतिशत बुजुर्ग किसी न किसी प्रकार के दुर्व्यवहार के शिकार हैं. बुजुर्गों के साथ होने वाली घटनाओं की तो रिपोर्ट तक दर्ज नहीं हो पाती हैं. ऐसी ही एक बुजुर्ग महिला इन दिनों अपने परिजनों के कारण सांसत में हैं. जी हां, मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम, केंद्र सरकार में मंत्री और कभी देश के सबसे बड़े नेताओं की जमात में शामिल रहे कांग्रेस के दिवंगत नेता अर्जुन सिंह की पत्नी सरोज सिंह घरेलू हिंसा की शिकार हैं. 84 साल की हो चुकीं सरोज सिंह ने अपने बेटे, मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह उर्फ राहुल सिंह पर उन्हें घर से बेदखल करने का आरोप लगाया है. सरोज सिंह ने इसको लेकर भोपाल की एक अदालत में आवेदन दिया है. कोर्ट ने उनका आवेदन स्वीकार कर लिया है.

भरण-पोषण करने से किया इनकार
पूर्व मुख्यमंत्री की पत्नी सरोज सिंह ने अपने अधिकार के लिए कोर्ट से गुहार लगाई है. मध्यप्रदेश कांग्रेस के बड़े नेता अजय सिंह के खिलाफ अपनी मंगलवार को भोपाल की जिला अदालत में दिए आवेदन में सरोज सिंह ने कहा, ‘मेरे बेटे अजय सिंह व अभिमन्यु सिंह ने घरेलू हिंसा कारित कर मुझे घर से बेदखल कर दिया है और मेरा भरण-पोषण करने से इनकार कर दिया है.’ उन्होंने अपना अधिकार दिलाए जाने की मांग करते हुए भोपाल की अदालत में एक आवेदन किया है. उनके आवेदन को लेकर मीडिया को जानकारी देते हुए सरोज सिंह के वकील ने बताया कि अदालत ने आवेदन मंजूर कर लिया है. उनके वकील ने बताया, ‘सरोज सिंह ने बेटे राहुल (अजय सिंह) के खिलाफ घरेलू हिंसा कानून के तहत शिकायत की है. सरोज सिंह ने आरोप लगाया है कि अजय सिंह उन्हें घर से बेदखल कर दिया है. कोर्ट इस मामले में निर्देश देगी.’

भोपाल में है अर्जुन सिंह का आवास
दिवंगत कांग्रेस नेता अर्जुन सिंह का भोपाल में केरवा कोठी के नाम से भव्य मकान है. सरोज सिंह की मांग है कि अदालत उस आवास से अजय सिंह को अलग किए जाने का आदेश जारी करे. इस बाबत सरोज सिंह ने एक विज्ञप्ति जारी कर बेटे अजय सिंह को कांग्रेस पार्टी के उसूलों की याद भी दिलाई है. उन्होंने अपने पति, अर्जुन सिंह का नाम लेकर अपनी पीड़ा व्यक्त की है. सरोज सिंह की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘अर्जुन सिंह ने जीवन पर्यंत कांग्रेस पार्टी के उसूलों पर काम किया. उन्होंने महिलाओं और असहाय व्यक्तियों का सहयोग किया. उन उसूलों को ताक पर रखकर अजय सिंह ने मुझे घर से बेदखल कर दिया. इसके कारण मुझे अपना आवास छोड़कर इधर-उधर रहना पड़ रहा है.’