इंदौर (मध्यप्रदेश): इंदौर में कोरोना वायरस से संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. स्वास्थ्य विभाग ने बुधवार को पुष्टि की कि शहर के एक सरकारी अस्पताल की 28 वर्षीय महिला रेजिडेंट डॉक्टर को कोरोना वायरस के संक्रमण के बाद अस्पताल में भर्ती किया गया है. मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जड़िया ने बताया, “कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि के बाद महिला रेजिडेंट डॉक्टर को निजी क्षेत्र के एक स्थानीय अस्पताल में भर्ती किया गया है. यह डॉक्टर शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय के स्त्री रोग विभाग में पदस्थ हैं.” Also Read - देश के 19 राज्‍यों में कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों की दर राष्‍ट्रीय औसत से बेहतर: केंद्र

जड़िया ने बताया कि पिछले दिनों यहां महिला डॉक्टर के संपर्क में आए उनके साथी डॉक्टरों समेत करीब 20 लोगों की पहचान कर ली गई है. इन लोगों को शहर के एक पृथक केंद्र में रखा गया है. मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया, “कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण दिखायी देने पर महिला रेजिडेंट डॉक्टर के नमूने इस बीमारी की जांच के लिये भोपाल के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की प्रयोगशाला को भेजे गये थे. इस प्रयोगशाला द्वारा उनमें कोरोना वायरस संक्रमण की पहले ही पुष्टि की जा चुकी है.” Also Read - Punjab Lockdown Extension News: जमावड़े पर लगी रोक, शादी समारोह में केवल इतने लोग होंगे शामिल

उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस से संक्रमित रेजिडेंट डॉक्टर अपने पति से मिलने कुछ दिन पहले उत्तरप्रदेश गयी थीं और हाल ही में इंदौर लौटी हैं. उत्तरप्रदेश में महिला डॉक्टर के पति को भी पृथक केंद्र में रखा गया है. जड़िया ने बताया कि शहर में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 63 मरीज मिल चुके हैं. इनमें से तीन लोगों की मौत हो चुकी है. Also Read - PM मोदी ने सुंदर पिचाई से की वीसी, गूगल भारत में 10 बिलियन डॉलर का निवेश करेगा