राजगढ़ (मध्य प्रदेश): मध्य प्रदेश में राजगढ़ जिला मुख्यालय से करीब 90 किलोमीटर दूर आगरा–मुंबई राष्ट्रीय राजमार्ग पर सारंगपुर के समीप गोपालपुरा गांव में दो कारों की टक्कर में सोमवार की सुबह पंच दसानन जूना अखाड़े के एक महंत सहित पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और पांच अन्य लोग घायल हो गए. Also Read - मध्‍य प्रदेश में कांग्रेस को एक और झटका, पार्टी के विधायक ने इस्‍तीफा देकर बीजेपी ज्‍वाइन की

सारंगपुर पुलिस थाना प्रभारी उमाशंकर मुकाती ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘गोपालपुरा गांव में दो कारों के बीच सोमवार की सुबह करीब छह बजे भिडंत हुई. इसमें एक महंत एवं एक महिला सहित पांच लोगों की मौत हुई है और पांच लोग घायल हुए हैं.’ उन्होंने कहा कि इस हादसे में पंच दसानन जूना अखाड़े के महंत अनंत गिरि महाराज गुरु (50) की मौत हो गई. उन्हें महंत सोमेश्वर गिरि के नाम से भी जाना जाता है और वह औरंगाबाद के रहने वाले थे. वह अन्य लोगों के साथ कार से औरंगाबाद से लखनऊ जा रहे थे. Also Read - Full Lockdown in Madhya Pradesh: कोरोना वायरस के चलते फिर से थमी मध्य प्रदेश की रफ्तार, राज्य में लागू हुआ टोटल लॉकडाउन

मुकाती ने बताया कि शेष मृतकों की पहचान सिया दुलारी यादव (50), अभिषेक (19), कैलाश (14) एवं मोहित यादव (14) के रूप में की गई है. ये चारों एक ही परिवार के थे और हादसे के वक्त कार से गुना से इंदौर जा रहे थे. उन्होंने कहा कि सभी घायल महंत के साथ कार में सफर कर रहे थे और उन्हें उपचार के लिए शाजापुर और सारंगपुर के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. Also Read - ग्वालियर दौरे पर पहुंचे शिवराज सिंह चौहान, बोले- मंत्रियों के विभागों का बंटवारा कल होगा

मुकाती ने बताया कि महंत अनंत गिरि के शव का पोस्टमार्टम करने के बाद उज्जैन के जूना अखाड़ा के साधु देव गिरि महाराज को सौंप दिया गया है. वह उनके पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार करने के लिए औरंगाबाद ले गये हैं. उन्होंने कहा कि इस संबंध में पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और विस्तृत जांच जारी है.

इसी बीच, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस दुर्घटना में पांच लोगों की मृत्यु पर दु:ख व्यक्त किया है. चौहान ने राजगढ़ जिला प्रशासन को प्रभावितों की आवश्यक सहायता के निर्देश दिए हैं.